जोधपुर की बेटी की हरियाणा में संदिग्ध हालात में मृत्यु

Arvind Singh Rajpurohit

Publish: Sep, 17 2017 03:51:22 (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India
जोधपुर की बेटी की हरियाणा में संदिग्ध हालात में मृत्यु

जोधपुर शहर के सांगरिया फांटा क्षेत्र की एक विवाहिता की हरियाणा के फतेहाबाद शहर में संदिग्ध हालात में मृत्यु हो गई।

-पुलिस ने माना आत्महत्या, पिता ने लगाया दहेज हत्या का आरोप
-डेरा सच्चा सौदा के विवाद के बाद लगे कफ्र्यू के कारण मृतका का शव नहीं लाया जा सका जोधपुर, हनुमानगढ़ ले जाकर करना पड़ा अन्तिम संस्कार
बासनी(जोधपुर).
जोधपुर शहर के सांगरिया फांटा क्षेत्र की एक विवाहिता की हरियाणा के फतेहाबाद शहर में संदिग्ध हालात में मृत्यु हो गई। हरियाणा पुलिस ने इस मामले को आत्महत्या का मानते हुए कार्रवाई की। घटना 26 अगस्त की है। अपनी बेटी की मौत की निष्पक्ष जांच के लिए उसका पिता हरियाणा पुलिस के आला अफसरों तक गुहार लगा चुका है। पिता का आरोप है कि उसकी बेटी ने आत्महत्या नहीं की, बल्कि उसके ससुराल वालों ने हत्या की।


बासनी क्षेत्र के सांगरिया फांटा क्षेत्र में रहने वाले लक्ष्मण उग्रेजिया की बेटी पूनम (26) को 7 साल साल पहले हरियाणा के फतेहाबाद का रहने वाला अनिल मांडल्य (30) भगा ले गया। कुछ समय बाद पता चलने पर पूनम की खुशी के लिए उसके पिता ने अनिल के साथ शादी कर दी। पिता लक्ष्मण उग्रेजिया ने बताया कि बेटी का आखिरी बार फोन 26 अगस्त को आया। उसने ससुरालवालों को दो लाख रूपये देने की मांग की। चूंकि मेरी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है, इसलिए रकम देने से मना कर दिया। उसी दिन शाम को फतेहबाद थाने से पूनम की आत्महत्या से मौत की खबर मिल गई।

 

परिजन नहीं मान रहे आत्महत्या
हरियाणा पुलिस के अनुसार पूनम की मौत फांसी लगाने से हुई। यह बात मृतका के पिता लक्ष्मण व अन्य परिजन के गले नहीं उतर रही। परिजन इस मामले की निष्पक्ष जांच के लिए गुहार लगा रहे हैं। मां को खोने के बाद उसके तीन बच्चे अल्का (6), नैतिक (3) व हितेश (2) के आंसू नहीं थम रहे हैं। बार-बार मां को पुकार रहे हैं। लक्ष्मण ने बताया कि पुलिस जांच में इन बच्चों की गवाही ली जानी चाहिए।


घर की मिट्टी भी नहीं हुई नसीब-
शादी के बाद पीहर का मुंह देखने को तरसी पूनम को अपने अन्तिम समय में भी पीहर की माटी भी नसीब नहीं हुई। मृतका के पिता लक्ष्मण के अनुसार सिरसा में डेरा सच्चा सौदा के विवाद के बाद लगे कफ्र्यू के कारण पूनम का शव जोधपुर नहीं ला सके और उसका अंतिम संस्कार हनुमानगढ़ रहने वाली बहन के घर से करना पड़ा और 12 दिन की रस्में भी वहीं से की गई।

पुलिस की यह रही भूमिका
हरियाणा में पूनम की मौत के बाद उसके ससुराल पक्ष के लोग गायब हो गए। पुलिस ने आत्महत्या में मामला दर्ज कर आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में मृतका के पति अनिल व ससुर खानू को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की इस कार्रवाई से असंतुष्ट मृतका के पिता लक्ष्मण ने फतेहाबाद पुलिस अधीक्षक आदि अफसरों को पत्र सौंपकर हत्या का मामला दर्ज करने की गुहार लगाई है।

इनका कहना है-
इस संबंध में मृतका के पति अनिल को आत्महत्या के उकसाने के आरोप में धारा 306 व 34 के तहत गिरफ्तार किया गया। पुलिस मामले की गहनता से तफ्तीश कर रही है।
-आत्माराम, एसएचओ, सिटी पुलिस, फतेहबाद

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned