जोधपुर : जोजरी का जहर ढा रहा कहर

-बिग इश्यू--
गांव-गली तक पहुंचा प्रदूषित पानी का कहर, हवा में घुल रहे जहरीले तत्व
-हादसे को न्यौता दे रही टूटी हुई रैलिंग

By: Abhinav singh Chouhan

Published: 15 Jan 2018, 02:47 AM IST

रघुवीरसिंह राठौड़

बासनी (जोधपुर).
स्वच्छता के प्रति शासन व प्रशासन भले ही बड़े दावोंं से बखान कर रहा हो, लेकिन हकीकत इससे इतर ही है। वर्तमान में गंदगी का आलम हर तरफ है। उचित समाधान नहीं होने से लोग भी धीरे-धीरे समस्याओं का सामना करते हुए रहने को मजबूर हैं। इसका कारण यह है कि प्रशासन अपने कर्तव्य का सही ढंग से निर्वहन नहीं कर रहा है। इसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है। ऐसा ही एक नजारा देखने को मिलता है झालामंड गांव से निकलने वाली जोजरी नदी का। फैक्ट्रियों की ओर से बहाए जाने वाले रासायनिक पानी की समय पर साफ-सफाई नहीं होने व प्रदूषित पानी का पर्याप्त उपचार नहीं किए जाने से यह नदी यहां से गुजरने वाले लोगों की नाक में दम कर रही है। हालात इस कदर हो गए हैं कि नदी से आने वाली बदबू के चलते लोगों का सांस लेना भी दूभर हो रहा है। लम्बे समय से प्रदूषित पानी की समस्या से परेशान लोगों की शिकायतों को गंभीरता से नहीं लेने वाले प्रशासन के नुमाइंदे यहां आकर हालात देखें ंंतो उनकी भी आंख खुल जाए। जोजरी की इसी भयावह स्थिति को बयां करती यह रिपोर्ट-

रैलिंग नहीं, गिर रहे विद्यार्थी
नदी से आती बदबू का समाधान करने में नाकाम प्रशासन की लापरवाही का नमूना यहां दिखाई देता है। सुरक्षा के लिए लगाई गई रैलिंग भी टूट गई है। जरा सी अनदेखी हादसों को न्यौता दे रही है। समीप ही स्कूल होने से यहां से गुजरने वाले विद्यार्थी कई बार नदी मेें गिरकर चोटिल हो चुके हैं। इसी कारण से अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने से भी कतराते हैं। नदी की बदबू से सबसे ज्यादा परेशानी का सामना नदी के पास बने सरकारी विद्यालय में पढऩे वाले विद्यार्थियों व शिक्षकों को करना पड़ता है। स्कूल में नदी से आती बदबू के चलते विद्यार्थियों की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है। इससे बचने के लिए विद्यार्थियों को मुंह पर मास्क लगाना पड़ता है। कई विद्यार्थी बदबू से बीमार भी हो चुके हैं।

ग्रामीण भी मजबूर, प्रशासन नहीं सुन रहा

नदी की बदहाली का खामियाजा भुगतने के लिए झालामंड ग्रामवासी भी मजबूर हंै। उनका कहना है कि नदी में फैली गंदगी व दुर्गंध से उन्हें भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन की ओर से ध्यान नहीं दिए जाने से वे भी ऐसे माहौल में रहने को मजबूर है। सबसे ज्यादा परेशानी शाम के समय होती है, लोगों का सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है। सांस संबधी बीमारियां भी बढ़ रही है। नदी की समस्या से निजात दिलाने के लिए ग्रामीणों ने कई बार प्रशासन को अवगत कराया, लेकिन कोई भी सुनवाई करने को तैयार नहीं हुआ। शिकायत लेकर जाने वाले लोगों को टरकाकर वापस लौटा दिया जाता है। ऐसे में लोगों का प्रशासन पर से भरोसा उठ गया है।

अंधेरा बन रहा बैरी, उग रही जहरीली सब्जियां
नदी की समस्या से परेशान ग्रामीणों के लिए समस्याएं यहीं खत्म नहीं हो जाती। रात के समय रोड लाइटें नहीं होने से यहां से गुजरने वाले ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं असामाजिक तत्व भी मौके का फायदा उठाने की फिराक में रहते हैं।
प्रदूषित जोजरी नदी के पानी से ही कई लोग अपने खेतों में सिंचाई कर सब्जियां उगा रहे हैं। यही सब्जियां बाजार में धड़ल्लेे से बिक रही है। ऐसे में इसका सीधा असर सेहत पर भी पड़ रहा है। जिससे पेट में दर्द, उल्टी, दस्त आदि के मरीज भी बढ़ रहे हैं।


इनका कहना है

प्रशासन बना रहा बजट का बहाना
नदी से आती बदबू से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन को शिकायत करने के बाद भी बजट न होने का बहाना बनाया जा रहा है। कई बार यहां पर बच्चे भी गिरकर चोटिल हो चुके हैं।
- सोहन लाल, झालामंड

 

सफाई की जरुरत
गंदगी व बदबू से विद्यार्थियों को परेशान होना पड़ता है। इससे अध्ययन करवाने में भी समस्या उत्पन्न हो रही है। ऐसे में नदी की सफाई करवाने की जरुरत है।
शशि सोलंकी, शिक्षिका

बीमारियों का अंदेशा
नदी की सफाई न होने से कई प्रकार की ेबीमारियां फैल रही है। लोगों को यहां से गुजरते समय मुंह ढक कर निकलना पड़ता है। नजदीक ही स्कूल होने से विद्यार्थियों पर भी इसका असर पड़ रहा है।
-श्रवण राम, झालामंड

पैदल गुजरना भी मुश्किल
मैं यहां पर रहता हूं, नदी से आती बदबू से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन की ओर से नदी की सफाई भी नहीं करवाई जा रही है। ऐसे में यहां से पैदल गुजरना भी मुश्किल हो रहा है। - धर्मेंद्र , राहगीर

पूर्व में कई बार प्रशासन को इस समस्या से अवगत कराया है, लेकिन प्रशासन की उचित कार्रवाई के अभाव में ग्रामीणों को इस समस्या का सामना करना पड़ रहा है।
कानाराम सरगरा
सरपंच, झालामंड

फैक्ट फाइल
प्रभावित परिवार-7500
कुल जनसंख्या-30000
रोजाना गुजरते हैं वाहन-1000



Abhinav singh Chouhan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned