गड़बड़झाला: शिक्षक व परिजन के सेंटर एक ही जगह

गड़बड़झाला: शिक्षक व परिजन के सेंटर एक ही जगह
- गिरफ्त में आने वाला सरकारी शिक्षक खुद भी देने वाला था रीट परीक्षा
- परीक्षा सेंटर के आवंटन में भी गड़बड़ी का अंदेशा

By: Vikas Choudhary

Published: 26 Sep 2021, 01:42 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
जिला विशेष टीम पूर्व व महामंदिर थाना पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में गिरफ्त में आए कोचिंग सेंटर संचालक भंवरलाल बिश्नोई व सरकारी शिक्षक मोहनलाल बिश्नोई से फर्जी आधार कार्ड के साथ-साथ मूल अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र भी जब्त किए गए हैं। सरकारी शिक्षक मोहनलाल से उसका व परिवार के तीन सदस्यों के प्रवेश पत्र भी जब्त किए गए हैं।

एसीपी (पूर्व) दरजाराम बोस का कहना है कि शिक्षक मोहन व तीनों परिजन के परीक्षा सेंटर एक ही जगह आए हैं। यह सेंटर बासनी क्षेत्र में है। जो आश्चर्य का विषय है। इससे पुलिस को अंदेशा है कि परीक्षा सेंटर आवंटन में भी गड़बड़ी हुई होगी। इस संबंध में जांच की जाएगी। परीक्षा के दौरान इस सेंटर पर विशेष नजर रखी जाएगी।
सरकारी शिक्षक भी अभ्यर्थी : रिश्तेदारों को नकल कराने का अंदेशा

पुलिस का कहना है कि आरोपी मोहनलाल बाड़मेर में सरकारी शिक्षक है। इसके बावजूद वह रीट की परीक्षा देने जा रहा था। उसका प्रवेश पत्र भी जब्त किया गया। उसका सेंटर भी उसी जगह आया है जहां तीनों रिश्तेदारों के हैं। इससे पुलिस को अंदेशा है कि अपने रिश्तेदारों को नकल कराने के लिए परीक्षा देने वाला था।
फर्जी आधार कार्ड बनया, फर्जी अभ्यर्थियों के फोटो लगाएआरोपियों से अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र के साथ-साथ रमेश का फर्जी आधार कार्ड भी जब्त किया गया है। इन दोनों पर मास्टर माइण्ड व कोचिंग सेंटर संचालक का फोटो लगा है। प्रवेश पत्र से मिलान के लिए फर्जी आधार कार्ड तैयार किया गया था।

एक अन्य फर्जी अभ्यर्थी की तलाश
रीट अभ्यर्थी रावताराम से जो प्रवेश पत्र जब्त किया गया है उस पर उसकी खुद की फोटो नहीं लगी हुई थी। जो फोटो प्रवेश पत्र पर लगी मिली वो किसी फर्जी अभ्यर्थी की होने का अंदेशा है। पुलिस उसको पकडऩे का प्रयास कर रही है। वहीं, गिरोह में शामिल अन्य के बारे में भी जांच की जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned