सांगरिया फांटा पर दो दिन से सडक़ पर बह रहा प्रदूषित पानी

 

जोधपुर. बासनी औद्योगिक क्षेत्र में रीको की ओर से कर्तव्य निर्वहन में बरती जा रही लापरवाही से आमजन को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसका जीता जागता उदाहरण है सांगरिया फांटा से रीको औद्योगिक क्षेत्र को जोडऩे वाली सडक़।

 

यहां पिछले दो दिन से प्रदूषित पानी की लाइन फूटी पड़ी है, जिससे सडक़ पर न सिर्फ पानी बह रहा है, बल्कि एक तरफ के आवागमन का मार्ग भी बंद हो गया है। इससे बावजूद भी रीको के लापरवाह अफसर इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।

 

आस-पास के दुकानदारों ने बताया कि बुधवार शाम को रीको के कर्मचारी मौके पर आए, लेकिन प्रदूषित पानी की समस्या से निजात दिलाने के बजाय सडक़ की खोदकर चले गए। एेसे में अब सडक़ पर प्रदूषित पानी बह रहा है, जिससे पैदल चल रहे राहगीरों के साथ ही वाहन चालकों को भी परेशान होना पड़ रहा है। गुरुवार को भी यही हालात रहे।

 

राह में तीन फीट से अधिक गहरा गड्ढा

 

रीको की लापरवाही से आमजन की जान किस कदर जोखिम में है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सडक़ के मध्य में जहां से पानी बह रहा है, वहां तीन फीट से अधिक गहरा गड्ढा हो चुका है।

 

जिसे दुरुस्त नहीं करवाए जाने से कभी भी वाहन चालक हादसे का शिकार हो सकते हैं। मुख्य मार्ग होने के चलते यातायात दबाव भी अधिक रहता है। इसके अलावा गंदी लाइन का मैनहोल खुला ही होने से यहां किसी के भी बहकर जाने की आशंका से भी इनकार नहीं किया जा सकता।

 

गड्ढे में फंसा ट्रक, रेंग-रेंगकर चले वाहन


सडक़ पर बह रहे प्रदूषित पानी की समस्या का समाधान नहीं किए जाने व सडक़ के मध्य हुए गड्ढे में गुरुवार शाम को पत्थर से भरा ट्रक गड्ढे में फंस गया। इससे सांगरिया फांटा से बासनी की तरफ जाने वाले मार्ग पर घंटे भर तक वाहन चालकों को रेंग-रेंग कर चलना पड़ा। बाद में क्रेन की सहायता से वजनी पत्थरों को खाली कर ट्रक को मौके से हटाया जा सका।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned