जाने नवरात्रा में कब करें घटस्थापना

सुबह 8:07 से 9:32 तक शुभ और दोपहर 12 से 12:46 बजे तक अभिजीत मुहूर्त

By: Nandkishor Sharma

Published: 16 Oct 2020, 06:53 PM IST

जोधपुर. घर घर घट स्थापना के साथ शनिवार को शारदीय नवरात्र प्रारंभ होंगे । इस दिन से घट स्थापन व शक्ति पूजन मां जगदंबा की पूजा-अर्चना शुरू होगी । इस दिन चित्रा नक्षत्र का पूर्वार्ध शुक्रवार को समाप्त हो जाता है इसलिए शनिवार सुबह से पूजा का प्रारंभ तथा घट स्थापना के लिए सुबह 8.07 से 9.32 तक शुभ चौघडि़ए में घट स्थापन करना शुभ है।
पं. ओमदत्त शंकर ने बताया की दोपहर 12 बजे से 12.46 तक अभिजीत मुहूर्त तथा दिन में लाभ अमृत चौघडि़या दोपहर 1.47 से 4.39 तक का समय भी घट स्थापना के लिए श्रेष्ठ है । इसमें धनु लग्न 11.16 बजे से ठीक है तथापि सुबह 11.51 बजे से सर्वार्थ सिद्धि योग होने से व स्वाती नक्षत्र उत्तम समय शुद्धि दर्शाते हैं । प्रथम दिन शैलपुत्री के रूप में पूजा की जाती है। शारदीय नवरात्र में नर्वाण मंत्र का जप करना श्रेष्ठ होता है।

लाएंगे खुशियों की सौगात

अधिक मास के बाद 17 अक्टूबर से शुरू हो रहा शक्ति और भक्ति का महापर्व शारदीय नवरात्र खुशियों की सौगात लाएंगे। इस बार नवरात्र में खरीदारी के शुभ योग के कारण लंबे अर्से बाद बाजार में एक बार फिर से रौनक होगी। जोधपुर के प्रमुख ज्योतिषियों के अनुसार 17 अक्टूबर को घट स्थापना सर्वार्थ सिद्धि योग में और 19 अक्टूबर को द्विपुष्कर योग सभी तरह की खरीदारी व शुभ कार्यों के लिए श्रेष्ठ रहेगा। इसी तरह 24 अक्टूबर को भी सर्वार्थसिद्धि योग में खरीदारी को सर्वोत्तम माना गया है। शुभ मुहूर्त में घरों व मंदिरों में घट स्थापना के साथ नवरात्र में देवी के नौ विभिन्न स्वरूपों का पूजन शुरू होकर 25 अक्टूबर तक चलेगा। मां दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों की आराधना व ध्यान के साथ खरीदारी के लिहाज से भी महत्वपूर्ण रहेंगे । ज्योतिषियों के अनुसार शारदीय नवरात्र के दौरान सर्वार्थसिद्धि योग के चलते बाजारों में जमकर खरीदारी होगी ।

Nandkishor Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned