कोर्ट में धमकी मिलने के बाद महिला सिपाही ने खुद को आग लगाई

कोर्ट में धमकी मिलने के बाद महिला सिपाही ने खुद को आग लगाई

Vikas Choudhary | Publish: Sep, 08 2018 07:17:41 PM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

- शादी के बाद पति के पहले से शादीशुदा होने का पता लगा तो उपजा विवाद
- गम्भीर हालत में एमजीएच की बर्न यूनिट में भर्ती

जोधपुर.
शादी होने के बाद पति के पहले से शादीशुदा होने के बारे जानकारी मिलने को लेकर वर्षों से चल रहे विवाद में एक महिला कांस्टेबल ने ८ मील पर बारली मण्डावता स्थित किराए के मकान में पेट्रोल उड़ेलकर आत्मदाह का प्रयास किया। उसे गम्भीर हालत में महात्मा गांधी अस्पताल की बर्न यूनिट में भर्ती कराया गया है। भरण-पोषण को लेकर कोर्ट में चल रहे वाद की पेशी के दौरान तीन-चार दिन पहले महिला व उसके बच्चों को जान से मारने की धमकियां भी दी गई थी। बयानों के आधार पर पुलिस ने पति के खिलाफ आत्महत्या को दुष्प्रेरित करने का मामला दर्ज किया गया है।
थानाधिकारी आनंद सिंह सांखला ने बताया कि फलोदी में पंखनाथ इन्द्रा कॉलोनी निवासी गीता (३३) पत्नी हरभजराम विश्नोई ने यहां मण्डोर ८ मील पर बारली मण्डावतान स्थित किराए के मकान में खुद पर पेट्रोल उड़ेलकर आग लगा ली थी। वह पति से अलग यहां अकेली रहती है। आग की लपटों से घिरने के बाद वह चिल्लाने लगी और दौडक़र मकान से बाहर निकली थी। यह देख आस-पास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी और आग पर काबू पाया। पुलिस की चेतक (फ्लाइंग) ने गम्भीर हालत में महिला कांस्टेबल को महात्मा गांधी अस्पताल की आपातकालीन इकाई पहुंचाया, जहां से उसे बर्न यूनिट में भर्ती किया गया। चिकित्सकों ने उसके साठ से सत्तर प्रतिशत जलने की आशंका जताई है।
पता लगने पर पुलिस अधिकारी अस्पताल पहुंचे। हालत में कुछ सुधार होने पर पुलिस ने उसके बयान दर्ज किए। वहीं, मजिस्ट्रेट के समक्ष मृत्युकालिक कथन भी दर्ज कराए गए। जिसमें उसने पति की प्रताडऩाओं से परेशान होकर आत्महत्या का प्रयास करने के आरोप लगाए। इस पर पुलिस ने रातानाडा के विष्णु नगर निवासी पति हरभजराम के खिलाफ मामला दर्ज किया। थानाधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं।
पति से दस-ग्यारह साल से चल रहा है विवाद
पुलिस का कहना है कि गीता की शादी वर्ष २००४ में हरभजराम से हुई थी। उसे तेरह साल का एक पुत्र व एक पुत्री है। जो वर्तमान में फलोदी में ननिहाल में रह रहे हैं। पति की पहले शादी हो चुकी थी। इस बारे में गीता को शादी के बाद पता लगा था। इसको लेकर दोनों में दस-बारह साल से विवाद चल रहा है।
कोर्ट में पेशी पर मिली थी धमकियां
पति-पत्नी के बीच पारिवारिक कोर्ट में मामला विचाराधीन है। गीता ने कोर्ट में भरण-पोषण का वाद दायर कर रखा है। तीन-चार दिन पहले कोर्ट में पेशी थी। उस दौरान गीता को जान से मारने की धमकियां दी गई थी। उसके बच्चों को भी मारकर फेंकने को धमकाया गया था। अंदेशा है कि इसी के चलते उसने आत्मदाह का प्रयास किया।
कमरे में मिला नोट, मम्मी-पापा मैं दुखी व परेशान हूं
गीता विश्नोई प्रथम बटालियन आरएसी में कांस्टेबल है। पुलिस जांच के लिए उसके किराए के मकान पहुंची तो एक नोट लिखा मिला। मम्मी-पापा के नाम नोट में लिखा था कि वह दुखी व परेशान है। वह व्यथित हो चुकी है। निराश होकर यक कदम उठा रही है। नोट में उसने शादी के बाद पति के पहले से शादीशुदा होने को लेकर चल रहे विवाद का भी उल्लेख किया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned