scriptLocust laid eggs in Pakistan, alert in India | Pakistan पाकिस्तान में टिड्डी ने दिए अण्डे, India में अलर्ट | Patrika News

Pakistan पाकिस्तान में टिड्डी ने दिए अण्डे, India में अलर्ट

- ग्वादर जिले की कई घाटियों में टिड्डी मिली

- अभी सॉलिटरी फॉर्म में, दल बनाने की प्रवृत्ति नहीं

जोधपुर

Published: May 09, 2022 04:52:14 pm

जोधपुर. एशिया और अफ्रीका के देशों में टिड्डी (Locust) को लेकर स्थिति नियंत्रण में है लेकिन नमी बढऩे के साथ India में टिड्डी का खतरा मंडरा सकता है। टिड्डी Pakistanपहुंच गई है। पाक के ब्लूचिस्तान प्रांत के ग्वादर जिले की कई घाटियों में एकल (सॉलिटरी) Locust मिली है जो अरब सागर से कुछ दूरी पर है। ईरान में भी टिड्डी रिपोर्ट की गई है। देश के राजस्थान और गुजरात के सर्वे में टिड्डी नहीं मिली। हालांकि पाक-ईरान में मिली टिड्डी सॉलिटरी फॉर्म में है। इसमें झण्ड बनाने की प्रवृत्ति नहीं होती है इसलिए अधिक खतरा नहीं है। अगले महीने India में Mansoon ऑनसेट होने के साथ नमी युक्त Weather मिलने से टिड्डी हमले की आशंका बढ़ जाएगी। टिड्डी जुलाई के बाद कभी भी आ सकती है हालांकि इस बार सभी देशों की ओर से तैयारी होने से अधिक खतरा नहीं रहेगा।
Pakistan पाकिस्तान में टिड्डी ने दिए अण्डे, India में अलर्ट
Pakistan पाकिस्तान में टिड्डी ने दिए अण्डे, India में अलर्ट
संयुक्त राष्ट्र संघ के खाद्य एवं कृषि संगठन (FAO) की ओर से मई के पहले सप्ताह में जारी बुलेटिन के अनुसार फरवरी-मार्च में कुछ Locust ने Pakistan में अण्डे दिए थे जिनसे अब वयस्क टिड्डी बन गई है। मार्च में ही Iran में भी टिड्डी ने ब्रीडिंग की थी लेकिन दोनों ही स्थानों पर टिड्डी सॉलिटरी फॉर्म है। गौरतलब है कि Locustदो अवस्था में रहती है। सॉलिटरी फॉर्म में टिड्डी केवल सामान्य कीड़े की तरह होती है। खुद का पेट भरने के लिए थोड़ा सा खाती है लेकिन जब यह ग्रीगेरियस फॉर्म में बदलती तो बड़े-बड़े घातक झुण्डों को जन्म देती है। ग्रीग्रेरियम फॉर्म में टिड्डी बहुत तेज, बहुत अधिक खाना खाने वाली,हमला करने वाली प्रवृत्ति धारण कर लेती है।
अगले महीने से दो देशों की बैठक
कोरोना से पहले India और Pakistanके मध्य Locustको लेकर जून से नवम्बर तक एक-दूसरे के देश में बैठक हुआ करती थी। एक महीने भारत के मुनाबाव और दूसरे महीने पाकिस्तान के खोखरापार में होती थी। कोरोना काल में सभी बैठकें ऑनलाइन ही हुई। भारतीय उपमहाद्वीप में जून से लेकर नवम्बर तक ही टिड्डी का खतरा रहता है।
----------------
पाकिस्तान में सॉलिटरी फॉर्म में टिड्डी मिली होगी, उससे अधिक खतरा नहीं है। भारत में स्थिति फिलहाल नियंत्रण में है।
-वीरेंद्र कुमार, सहायक निदेशक, टिड्डी चेतावनी संगठन जोधपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार सीएम की शपथ लेने के साथ अपने ही रिकॉर्ड तोड़ने से चूके Nitish Kumar, 24 अगस्त को साबित करेंगे बहुमतपीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कितना भी 'काला जादू' फैला लें कुछ होने वाला नहींMumbai: सिंगर सुनिधि चौहान के खिलाफ शिवसेना ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत, पाकिस्तान स्पॉन्सर कार्यक्रम का लगाया आरोपदेश के 49वें CJI होंगे यूयू ललित, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नियुक्ति पर लगाई मुहरकश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या का बदला हुआ पूरा, सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिरायासुनील बंसल बने बंगाल बीजेपी के नए चीफ, कैलाश विजयवर्गीय की हुई छुट्टीसुप्रीम कोर्ट से नूपुर शर्मा को बड़ी राहत, सभी FIR को दिल्ली ट्रांसफर करने के निर्देशBihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.