ईरान की जमीन छोडऩे लगी टिड्डी, भारत-पाक में बढ़ा खतरा

locust news

- संयुक्त राष्ट्र के साथ बैठक में पाकिस्तान ने बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया टिड्डी नियंत्रण डाटा
- शाम को गंगानगर से फिर घुसा टिड्डी दल, बिहार तक पहुंची टिड्डी

By: Gajendrasingh Dahiya

Published: 29 Jun 2020, 11:30 PM IST

जोधपुर. मौसम में बदलाव के साथ ही रेगिस्तानी टिड्डी अब ईरान की जमीन छोडऩे लगी है। सोमवार को संयुक्त राष्ट्र संघ की मेजबानी में भारत, पाकिस्तान, ईरान और अफगानिस्तान के टिड्डी नियंत्रण अधिकारियों की हुई बैठक में ईरान ने अपने यहां से टिड्डी के धीरे-धीरे लौटने की बात बताई। अब ईरान के पाकिस्तान से लगते दक्षिणी हिस्से सिस्तान-बलूचिस्तान में ही टिड्डीहै। स्प्रिंग ब्रीडिंग का मौसम समाप्त होते ही टिड्डी का रुख भारत पाक बॉर्डर की ओर हो गया है।
उधर श्रीगंगानगर के रास्ते सोमवार शाम को एक और टिड्डी दल पाकिस्तान से प्रवेश कर गया। टिड्डी दल की सूचना पर पंजाब और हरियाणा में अलर्ट किया गया है। टिड्डी देश के 10 राज्यों तक पहुंच चुकी है। पिछले सप्ताह टिड्डी बिहार भी पहुंच गई। सोमवार को राजस्थान के अलावा उत्तर प्रदेश और हरियाणा में टिड्डी नियंत्रण कार्यक्रम चलाया गया। उत्तर प्रदेश के कई जिलों में टिड्डी होने से गन्ना उत्पादक किसानों के ललाट पर चिंता की लकीरें खींच पाई है। वहां टिड्डी कुछ जगह गन्ना को साफ कर रही है।

पाकिस्तान ने मारी डींगे

सोमवार को बैठक में भारत द्वारा पाकिस्तान को टिड्डी नियंत्रण कार्यक्रम के बारे में पूछने पर पाकिस्तान ने हमेशा की तरह डींगे मारना शुरू कर दिया पाकिस्तान ने नियंत्रण कार्यक्रम का ब्यौरा हेक्टेयर के बजाय वर्ग किलोमीटर में दिया जो बहुत अधिक होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर पाक वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण कर रहा है तब भारत में रोज नए टिड्डी दल कैसे आ सकते हैं।

पाक को ब्रिटेन ने मुफ्त में दी माइक्रोनियर मशीनें
टिड्डी नियंत्रण करने के लिए पाकिस्तान ने भारत की तरह ब्रिटेन से 25 माइक्रोनियर मशीनें खरीदी है लेकिन ब्रिटेन ने अपनी ओर से 10 माइक्रोनियर मशीन पाकिस्तान को गिफ्ट भी की है। उधर संयुक्त राष्ट्र के खाद्य एवं कृषि संगठन की ओर से भी पाकिस्तान को आर्थिक सहायता मुहैया करवाई जा रही है। बावजूद इसके पाक बेहतर तरीके से टिड्डी से मुकाबला कर पाने में असफल साबित हो रहा है।

आज यहां हुआ टिड्डी नियंत्रण

टिड्डी चेतावनी संगठन द्वारा सोमवार को राजस्थान के बाड़मेर, जोधपुर, बीकानेर, नागौर, जयपुर, झुंझुनू, चूरू, सीकर, अजमेर, उत्तर प्रदेश के अररिया, फर्रुखाबाद, कासगंज जिले में टिड्डी नियंत्रण कार्य किया गया। इसमें 40 वाहन, 92 ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर, 10 फ़ायर ब्रिगेड और 6 ड्रोन काम में लिए गए।

Gajendrasingh Dahiya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned