नाबालिगों को तीन दिन बैठाए रखा थाने में!

- एएसआइ व दो कांस्टेबल लाइन हाजिर, जांच के आदेश
- चोरी के संदेह में पूछताछ के दौरान दी गई प्रताडऩा

By: Vikas Choudhary

Published: 17 Mar 2021, 01:26 AM IST

जोधपुर.
चोरी के संदेह में तीन नाबालिगों को पुलिस स्टेशन जाम्बा में बिठाकर रखने व मारपीट कर प्रताडि़त करने का मामला सामने आने पर एक एएसआइ व दो कांस्टेबल को लाइन हाजिर कर दिया गया। वृत्ताधिकारी (फलोदी) को जांच सौंपी गई है।

पुलिस के अनुसार जाम्बा गांव के एक केबिन में गत २७ फरवरी की रात चोरी की जांच एएसआइ मल्लूराम को सौंपी गई। संदेह के आधार पर पुलिस तीन नाबालिगों को थाने लाई। आरोप है कि तीनों को तीन दिन तक थाने में अवैध तरीके से बिठाए रखा गया। चोरी स्वीकार न करने पर पुलिस ने मारपीट कर उलटा लटकाए रखा। कई तरह की प्रताडऩा दी गई। नाबालिगों का आरोप है कि पुलिस ने कपड़े उतारकर मारपीट की। ऑलपिन चुभाई गई। जिससे उनके हाथों में सूजन आ गईं। बाद में तीनों को छोड़ दिया गया।
नाबालिगों के साथ परिजन अधिकारियों के समक्ष पेश हुए और बच्चों को प्रताडि़त करने की शिकायत की।

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) अनिल कयाल के पास शिकायत पहुंची तो उन्होंने एएसआइ मल्लूराम व दो कांस्टेबल को लाइन हाजिर कर दिया। साथ ही सीओ को जांच सौंपी गई।
----------------------------

'चोरी के मामले में तीन नाबालिगों को बुलाया गया था। मारपीट का आरोप लगाया गया है। एक एएसआइ सहित दो सिपाहियों को लाइन हाजिर कर जांच सीओ को सौंपी गई है।Ó
अनिल कयाल, पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) जोधपुर।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned