एमआरएस की बैठक में छाया रहा जिला अस्पताल का मुद्दा

एमआरएस की बैठक में छाया रहा जिला अस्पताल का मुद्दा

Narayan Soni | Publish: Aug, 12 2018 10:35:25 AM (IST) Phalodi, Rajasthan, India


पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
फलोदी. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जोधपुर डॉ. सुनील बिष्ट ने शनिवार को फलोदी के राजकीय चिकित्सालय में मेडीकेयर रिलीफ सोसायटी की बैठक ली।

बैठक में फलोदी के राजकीय चिकित्सालय को जिला अस्पताल बनाने का मुद्दा छाया रहा। साथ ही चिकित्सकों ने अस्पताल की समस्याओं से सीएमएचओ को रूबरू करवाया। सीएमएचओ ने आज राजकीय चिकित्सालय का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
सीएमएचओ डॉ. सुनील बिष्ट ने कहा कि चिकित्सालय में सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर गंभीरता बरती जाए। साथ ही राजश्री योजना के डाटा समय पर ऑनलाइन किए जाएं। उन्होंने कहा कि अस्पताल के मुख्य द्वार से लेकर अन्दर सरकारी योजनाओं के बैनर लगाएं तथा परिसर में स्वच्छता बनाएं रखे। बैठक में प्रभारी डॉ. रविन्द्र परमार, डॉ. दिनेश सोनी, डॉ. मधु शर्मा, डॉ. महेन्द्र रतनानी, डॉ. मधु शर्मा, डॉ. अभिषेक अग्रवाल, डॉ. रमेश खत्री, डॉ. सुनीता सोनी, एमआरएस सदस्य माणक सुथार, सम्पत चाण्डा, एसपी चाण्डा, हितेश बोहरा आदि उपस्थित रहे।
कई प्रस्ताव हुए पारित-
बैठक में नई ईसीजी मशीन खरीदने, लैब के सामने शौचालय की मरम्मत करवाने, शॉक पिट खाली करवाने, रामदेवरा मेले को लेकर ३० हजार की सामग्री खरीदने, अप्रेल से जून तिमाही का आय-व्यय ब्यौरे का अनुमोदन, वार्ड व ऑपरेशन कक्ष के एल्यूमिनीयम दरवाजे ठीक करवाने, सुरक्षा कार्य एजेंसी को देने, ऑर्थाेपेडिक सर्जरी के लिए बेसिक उपकरणों की खरीद के प्रस्ताव पारित किए गए तथा हाल ही में सांसद, राज्य सभा सांसद व विधायक द्वारा की गई घोषणाओं की वित्तीय स्वीकृतियां लेकर सोनोग्राफी मशीन, सीआर मशीन स्थापित करने, अस्पताल को मिल रहे सफाई बजट को बढ़ाने आदि पर चर्चा हुई।
जिला अस्पताल बने तो मिले राहत-
एमआरएस की बैठक में चिकित्सकों व एमआरएस सदस्यों ने सीएमएचओ को राजकीय चिकित्सालय की ओपीडी व अन्य सेवाओं को देखते हुए चिकित्सालय को जिला अस्पताल बनाने की मांग रखी। जिस पर सीएमएचओ ने कहा कि जिला अस्पताल को लेकर जिला कलक्टर से चर्चा कर सरकार को पत्र लिखा जाएगा। साथ ही अस्पताल को १५० शैय्याओं में क्रमोन्नत करने, फलोदी के आस-पास के क्षेत्र से पोस्टमार्टम के लिए शव यहां न लाकर नजदीकी अस्पताल में ही चिकित्सकों द्वारा पोस्टमार्टम करवाने की व्यवस्था करने की मांग उठी। इस दौरान अस्पताल के कर्मचारियों ने वेतन समय पर बनाने, सर्विस बुक पूरी करने, वेतन स्थिरीकरण सहित विभिन्न समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर कार्रवाई की मांग की तथा समस्याओं का समाधान नहीं होने कार्य बहिष्कार की चेतावनी भी दी है। साथ ही आस-पास के क्षेत्र के अन्य स्वास्थ्य केन्द्रों को बीसीएमओ कार्यालय से हटाकर फलोदी से जोडऩे से उत्पन्न समस्याओं पर भी चर्चा हुई।
नर्सिंग अधीक्षक को दिए निर्देश-
सीएमएचओ ने नर्सिंग अधीक्षक दिनेश रंगा को कहा कि अस्पताल में चिकित्साकर्मियों को समय पर ड्यूटी पर आने की व्यवस्था सुनिश्चित करें तथा प्रत्येक चिकित्साकर्मी एप्रीन पहनकर ही आएं। उन्होंने कहा कि जो कर्मचारी नहीं मान रहे हैं, मुझे सूचित करें। मैं उनको सुधार दूंगा।
-------------

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned