जगह जगह से खोदकर निकाली बहते हुइ बच्चे और मां की लाश, नाले में हुई मौतों को लेकर बड़ रहा रोष

Deenbandhu Vashisht

Publish: Sep, 16 2017 01:55:24 (IST) | Updated: Sep, 16 2017 06:32:11 (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India
जगह जगह से खोदकर निकाली बहते हुइ बच्चे और मां की लाश, नाले में हुई मौतों को लेकर बड़ रहा रोष

- विभिन्न संगठनों ने प्रदर्शन कर महापौर व आयुक्त के नाम सौंपे ज्ञापन..

नाले में बहने, मौतों को लेकर रोष,विभिन्न संगठनों ने प्रदर्शन कर महापौर व आयुक्त के नाम सौंपे ज्ञापन


जोधपुर. नगर निगम की लापरवाही के चलते 12 सितम्बर की रात हुए हादसे को लेकर शहर के सामाजिक संगठनों में रोष बढ़ता जा रहा है। राजस्थान यूथ कांग्रेस, मारवाड़ राजपूत सभा और हल्ला बोल मंच की ओर से शुक्रवार को निगम के खिलाफ प्रदर्शन किया गया।

राजस्थान यूथ कांग्रेस के बैनर तले प्रदर्शन किया गया। यूथ कांग्रेस के प्रदेश महासचिव राजूराम खोजा व कार्यकर्ताओं ने भैंस के आगे बीन बजा निगम की संवेदनहीनता को झकझोरने की कोशिश की। खोजा ने बताया कि इस मानसून में नगर निगम की लापरवाही से नालों में गिरकर शहर के पांच व्यक्तियों की मौत हो गई है। ये सब होने के बाद भी महापौर व निगम आयुक्त ने न तो दोषियों पर कार्रवाई की और न ही नालों को सही करवाया। खोजा ने निगम आयुक्त को ज्ञापन सौंपकर चेतावनी भरे लहजे में सात दिवस के भीतर खुले नालों की मरम्मत व सफाई व्यवस्था दुरस्त नहीं करवाने पर आंदोलन की चेतावनी दी।

 

प्रदर्शन के दौरान

प्रदर्शन के दौरान चेतनराम ग्वाला, एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष दिनेश परिहार, भाकरराम विश्नोई, धर्माराम बेन्दा, जगदीश सांई, एनएसयूआई उपाध्यक्ष अंकित गहलोत, ललित गहलोत, राजेन्द्र छाबरवाल, राजू बैनीवाल सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे। वहीं मारवाड़ राजपूत सभा के अध्यक्ष हनुमान सिंह खांगटा के नेतृत्व में नगर निगम की लापरवाही से हुई मंगेश कंवर व उनके पुत्र ब्रह्मदेव सिंह की दर्दनाक मौत पर मृतका के परिजनों को बीस लाख की आर्थिक सहायता एवं आश्रित को नौकरी दिलाने का मांग पत्र सौंपा। वहीं हल्ला बोल आम जन का मंच की ओर से निगम प्रशासन की सद्बुद्धि के लिए यज्ञ का आयोजन किया। मंच संयोजक अमित व्यास ने बताया कि निगम प्रशासन की लापरवाही एवं कार्य करने की इच्छा शक्ति के अभाव के चलते आए दिन हादसे हो रहे है। इसलिए ही मंच की ओर से यज्ञ कर निगम की अव्यवस्था सुधारने की कामना की है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned