scriptNational Flag Day Special: swastika symbol in tricolor | National Flag Day Special: संशोधन प्रस्ताव वापस नहीं लेते तो तिरंगे में होता स्वस्तिक चिन्ह | Patrika News

National Flag Day Special: संशोधन प्रस्ताव वापस नहीं लेते तो तिरंगे में होता स्वस्तिक चिन्ह

National Flag Day Special: राष्ट्रीय झंडा दिवस विशेष
- संविधान सभा के सदस्य केवी कामथ ने रखा था संशोधन
- लेकिन झंडे को देखते ही वापस ले लिया
- तिरंगा देश का ध्वज बनते ही आधे मिनट तक सम्मान में खड़े रहे संविधान सभा के सदस्य

जोधपुर

Published: July 21, 2022 04:18:46 pm

National Flag Day Special: गजेंद्र सिंह दहिया/जोधपुर. देश को आजादी मिलने से पहले ही 22 जुलाई 1947 को तिरंगा भारत का राष्ट्रीय ध्वज बन गया था। तिरंगे को लेकर संविधान सभा के सभी सदस्य एकमत थे और एक ही दिन में जय हिंद के जयकारों के साथ तिरंगे के प्रस्ताव को पास किया गया। जब पंडित जवाहरलाल नेहरू ने संविधान सभा में झंडा प्रस्ताव रखा था, तब मध्य प्रांत (मध्यप्रदेश) के सदस्य के.वी. कामथ ने तिरंगे में अशोक चक्र के साथ स्वस्तिक चिह्न रखने का संशोधन प्रस्ताव पेश किया।
National Flag Day Special: संशोधन प्रस्ताव वापस नहीं लेते तो तिरंगे में होता स्वस्तिक चिन्ह
National Flag Day Special: संशोधन प्रस्ताव वापस नहीं लेते तो तिरंगे में होता स्वस्तिक चिन्ह
कामथ चाहते थे कि इससे भारत में सनातन व हिंदू संस्कृति की झलक देखने को मिलेगी। कामथ ने उस समय तक तिरंगे का प्रस्ताव गौर से देखा नहीं था, लेकिन जब तिरंगे को देखा तो अशोक चक्र को धर्म चक्र के रूप में देखकर उन्हें खुशी हुई और कहा कि इसमें स्वस्तिक चिह्न अच्छा नहीं लगेगा और प्रस्ताव वापस ले लिया। एक अन्य सदस्य पीएस देशमुख चरखे को तिरंगे में शामिल करने का संशोधन रखना चाह रहे थे, लेकिन सदन की मंशा देखकर उन्होंने संशोधन ही नहीं रखा। गौरतलब है कि कामथ संविधान सभा में दूसरे सर्वाधिक बोलने वाले सदस्य थे। उन्होंने 1.94 लाख शब्द बोले थे। सर्वाधिक शब्द 2.64 लाख डॉ बी.आर. अम्बेडर ने बोले।
संविधान सभा में नहीं थी झंडा समिति
संविधान सभा में जे बी कृपलानी की अध्यक्षता में किसी भी झंडा समिति का उल्लेख नहीं मिलता है। सभा अध्यक्ष डॉ. राजेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता में झंडा पर एक तदर्थ समिति जरूर बनी थी। इसी तदर्थ समिति ने तिरंगे को राष्ट्रीय ध्वज के रूप में स्वीकार किया था।
राजस्थान से व्यास व मेहता का उद्बोधन
जुलाई को संविधान सभा में केवल एक ही काम हुआ था। इसमें पंडित नेहरू की ओर से राष्ट्रीय ध्वज पर प्रस्ताव रखा गया और इस पर लगभग 40 सदस्यों का उद्बोधन हुआ। राजस्थान से दो सदस्य उदयपुर से डॉ मोहनसिंह मेहता और जोधपुर से जय नारायण व्यास ने अपना संबोधन दिया। एक मात्र महिला सदस्य सरोजनी नायडू ने भाषण दिया।
आधा मिनट खड़े हुए
अंत में सभा के सभी सदस्यों ने आधा मिनट खड़े रहकर तिरंगे के प्रस्ताव को स्वीकार किया।

बीस साल से 365 दिन फहरा रहे हैं तिरंगा
पहले केवल 15 अगस्त अथवा 26 जनवरी को झंडा फहरा सकते थे। बाद में नवीन जिंदल बनाम भारत संघ 2002 के निर्णय के बाद यह 365 दिन 24 घंटे लगाया जा सकता है। यह भी हमारी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का भाग है ।
-डॉ. दिनेश गहलोत, असिस्टेंट प्रोफेसर व संविधान विशेषज्ञ, जेएनवीयू जोधपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Himachal Pradesh News: रामपुर के रनपु गांव में लैंडस्लाइड से एक महिला की मौत, 4 घायलMaharashtra Politics: चंद्रशेखर बावनकुले बने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष, आशीष शेलार को मिली मुंबई की कमानममता बनर्जी को बड़ा झटका, TMC के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफामाकपा विधायक ने दिया विवादित बयान, जम्मू-कश्मीर को बताया 'भारत अधिकृत जम्मू-कश्मीर'गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस का बड़ा ऐलान, सरकार बनी तो किसानों का तीन लाख तक का कर्ज होगा माफBJP का महागठबंधन पर बड़ा हमला, सांबित पात्रा बोले- नीतीश-तेजस्वी के साथ आते ही बिहार में जंगलराज शुरूबिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमारCoronavirus News Live Updates in India : राजस्थान में एक्टिव मरीज 4 हजार के पार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.