कुंओं-बावड़ियों को तर रखने वाला राजलाव तालाब बना दुर्दशा का शिकार

Pawan Kumar Pareek

Publish: May, 18 2019 11:45:58 AM (IST)

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

बिलाड़ा (जोधपुर). सैकड़ों कुंओं को रिचार्ज करने व कस्बे की कुंओं-बावडिय़ों के पानी को मीठा बनाए रखने की क्षमता रखने वाला राजलाव तालाब की वर्तमान में ऐसी दुर्दशा हो चुकी है कि सौ बीघा क्षेत्र का यह तालाब सिमट कर मात्र 21 बीघा का ही रह गया है।

 

इसके सुधार के लिए पालिका बोर्ड की बैठक में इसके लिए कई बार प्रस्ताव पारित किए जा चुके है। इसके बावजूद कोई नतीजा नहीं निकला। अब हालत यह है कि तालाब के पेटे में आज भी पास-पडौस के बाशिंदे खुले में शौच जाने के लिए तालाब का उपयोग करते है। जो अब कचरा पात्र बन चुका है।

दीवान ने खुदवाया था तालाब
मारवाड़ में दीवान परम्परा शुरू होने के पश्चात बिलाड़ा के सातवें दीवान राजोलावसिंह ने कस्बे के निकट यह तालाब खुदवाया था। तालाब में चार बेरियां खुदवाई थी जहां से इस गांव के सभी वर्गों के लोग अपनी-अपनी बेरियों से मीठा पानी भरा करते थे। कालान्तर में दो बेरियों का अस्तित्व ही समाप्त हो गया है। तालाब की पाळ के पास बनाए घाट एवं बनी बेरियों के
पास-आस लोग अब शौच जाने लगे है।

 

चौपड़ा फीडर नहर से भरता है तालाब-रायपुर बांध पर चादर चलने के बाद पानी चौपड़ा बांध के लिए कस्बे के निकट से बहने वाली नहर के जरिए गुजरता था। दशकों से नहर में बड़ी मोहरी रखी हुई थी, जिसके जरिए पानी तालाब तक पहुंचता था और तालाब के लबालब भरने के पश्चात इस पर चलने वाली चादर का पानी पुन: पड़ा फीडर में मिल जाता था।


इस प्रकार सौ बीघा क्षेत्र का यह तालाब बारहों मास मीठे पानी से भरा रहता तथा आस-पास के कुंए-बावडिय़ों में भी मीठा पानी रहता। साथ ही कृषि कुंओं का जलस्तर भी ऊंचा रहता, जिन पर मात्र तीन या पांच होर्स पावर की मोटरों से किसान खेत में सिंचाई कर लेते थे। वर्तमान में फीडर से तालाब तक नहर तो खोद दी गई है, लेकिन उसे न तो पक्का बनाया गया है और न ही उसे सुन्दरता प्रदान की गई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned