जोधपुर. ऐतिहासिक मंडोर उद्यान में बड़ी संख्या जातरुओं के पहुंचने के बावजूद जिला प्रशासन की ओर से माकूल इंतजाम नहीं है।

 

राजस्थान उच्च न्यायालय की ओर से मंडोर उद्यान में बाबा रामदेव मेले के दौरान माकूल व्यवस्था, बंद पड़ी रोड़ लाइटों व सफाई को लेकर दिए गए आदेशों की पालना नहीं हो रही।

 

नागादड़ी जलाशय पर स्नान करने वाले जातरुओं की सुरक्षा के लिए गोताखोर तक तैनात नहीं हैं। पिछले साल नागादड़ी में डूबने से दो जातरुओं की मौत के बावजूद प्रशासन ने कोई सबक नहीं लिया है।

 

युवक कांग्रेस के जिला सचिव लक्ष्मण सिंह सोलंकी ने बताया कि विभिन्न क्षेत्रों से आने वाले जातरू अज्ञानतावश जान जोखिम मे डाल कर जलाशय में स्नान करते है । मंडोर आने वाले हजारों जातरुओं के लिए अभी तक प्राथमिक चिकित्सा तक के इंतजाम नहीं हो पाए है।

 

उल्लेखनीय है गुजरात, मध्यप्रदेश व प्रदेश के कोने कोने से आने वाले जातरू रामदेवरा दर्शन के बाद लौटते समय काला-गोरा भैरुजी के दर्शनार्थ मंडोर आते हैं।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned