यहां बाबूओं के भरोसे चल रहा कार्यालय, लॉकडाउन के बाद बेरोजगारी भत्ते के लिए बढ़े आवेदन

- रोजगार कार्यालय में अधिकारी नदारद
- कार्यालय को ही बनाया पार्किंग स्थल

By: Jay Kumar

Published: 10 Jul 2020, 11:02 PM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

ओम टेलर/जोधपुर. घड़ी में शाम के करीब साढ़े चार बज रहे थे। भदवासिया क्षेत्र स्थित कार्यालय सहायक निदेशक उप क्षेत्रीय रोजगार कार्यालय पहुंचे तो कुछ कार्मिक ग्रुप में बैठे बातें कर रहे थे। अंदर गए तो सहायक निदेशक के कमरे की कुर्सी खाली नजर आई। पूछने पर बताया कि सहायक निदेशक के पास पाली का भी अतिरिक्त चार्ज है इसलिए पाली गए हुए है। बेरोजगारों को रोजगार दिलाने के लिए विभाग की क्या योजना हैं इसको लेकर उन्होंने बताया कि रोजगार मेला आयोजित करवाते है। इस बार कोरोना के कारण मेला आयोजित करवाने में दिक्कत आ रही है। अक्टूबर तक स्थिति सुधरी तो बेरोजगारों के लिए मेला आयोजित करवाया जाएगा।

कार्यालय को बनाया पार्किंग स्थल
विभाग के कार्यालय को मानो यहां के कार्मिकों ने पार्किंग स्थल बना दिया। तीन-चार दुपहिया वाहन कार्यालय परिसर में ही खड़े नजर आए। कोरोना का डर कहे या सावधानी यहां के कार्मिकों ने सेनेटाइजर आदि की व्यवस्था कर रखी थी तथा बेरोजगारी भत्ते के लिए आवेदन लेकर पहुंच रहे लोगों के लिए अलग से टोकरी तक रखी हुई थी।

बेरोजगारी भत्ते के लिए बढ़े आवेदन
विभाग की ओर से मुख्यमंत्री युवा संबल योजना के तहत स्नातक उत्र्तीण युवाओं को बेरोजगारी भत्ता दिया जाता है। विभाग के अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी रणछोड़ पुरोहित ने बताया कि जनरल व ओबीसी वर्ग के 18 से 30 वर्ष आयु के युवाओं को तीन हजार तथा युवतियों को 3500 रुपए बेरोजगारी भत्ता दिया जाता है। एससी/एसटी वर्ग के युवाओं को 18 से 35 वर्ष की आयु तक बेरोजगारी भत्ता दिया जाता है। अधिकतम दो वर्ष की अवधि तक बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है।

तीन माह में आए 1300 आवेदन
लॉकडाउन के चलते बेरोजगारी भत्ता पाने की आश में युवाओं द्वारा आवेदन करने का सिलसिला बढ़ा है। पिछले तीन माह में विभाग को बेरोजगारी भत्ते के लिए 1272 आवेदन पत्र मिले। इसके साथ ही रोजाना करीब 12 से 15 कॉल कार्यालय में आते है। अधिकतर का प्रश्न रहता है कि उनके खाते में बेरोजगारी भत्ता नहीं आ रहा। तो किसी का प्रश्न रहता कि बेरोजगारी भत्ता पाने के लिए किया करना है।

इन्होंने कहा
कोरोना के चलते अभी रोजगार मेले आयोजित नहीं कर रहे है। बेरोजगारी भत्ते के लिए जो आवेदन आ रहे है उनका निस्तारण कर रहे है। वर्तमान में 14 हजार 985 युवाओं को बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है।
- राघवेन्द्रसिंह, सहायक निदेशक, उपक्षेत्रीय रोजगार कार्यालय, जोधपुर

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned