़चिकित्सा योजनाओं से जुड़े लंबित प्रकरणों की पेंडेंसी बर्दाश्त नहीं: कलक्टर

 

जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक

By: Abhishek Bissa

Published: 23 Feb 2021, 11:04 PM IST

जोधपुर. जिला कलक्टर इन्द्रजीत सिंह ने कहा कि राज्य सरकार का चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेक्टर पर सर्वाधिक फ ोकस है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निरोगी राजस्थान की परिकल्पना को साकार करने के लिए व सम्पूर्ण देश में राजस्थान को चिकित्सा के क्षेत्र में अग्रणी पायदान पर पहुंचाने के लिए विभिन्न नवीन अभिनव योजनाएं प्रारंभ की है। चिकित्सा सेवा का लाभ समय पर दिया जाए। कोई भी व्यक्ति चिकित्सा सुविधा से वंचित नहीं रहे। जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में सोमवार को डीआरडीए सभागार में लगभग 4 घंटे चली। कलक्टर ने कहा कि चिकित्सा योजनाओं से जुड़े प्रकरणों की पेंडेंसी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि आयुष्मान भारत राजस्थान महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का सक्रिय व प्रभावी क्रियान्वयन करते हुए राजकीय के साथ इमपेनल्ड निजी अस्पतालों में आने वाले पात्र रोगियों को योजना अनुसार पैकेज बुक करके स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाए। अब तक 37 राजकीय अस्पताल व 10 निजी अस्पतालों में योजना के तहत पैकेज बुक करने का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। कलक्टर ने मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना, जांच योजना, जननी सुरक्षा योजना व सिलिकोसिस रोगियों के लिए पीएचसी पर भी प्रमाण पत्र जारी करने सहित कई निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जिले द्वारा अब तक 258 सफ ल नि:शुल्क हार्ट सर्जरी कर प्रदेश में प्रथम स्थान पर होने के लिए जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की सराहना की।

बैठक में सीएमएचओ डॉ बलवंत मण्डा ने जिले के चिकित्सा एवं स्वास्थ विभाग से जुड़े कार्यो की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की। बैठक में कई चिकित्सा अधिकारी मौजूद थे।

Abhishek Bissa Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned