video : फलोदी को सीधे जयपुर से जोडऩे की कवायद शुरू

Jitendra Singh Rathore

Publish: Feb, 16 2018 12:21:39 PM (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुरफलोदी. राजस्थान सरकार के गत बजट में फलोदी को सीधे राजधानी जयपुर से जोडऩे के लिए फलोदी-नागौर-खाटू सडक़ मार्ग को नेशनल हाइवे की घोषणा के बाद इस सडक़ मार्ग को नेशनल हाइवे बनाने की कवायद शुरू हो गई है। अब इस नेशनल हाइवे के निर्माण को लेकर डीपीआर का कार्य जारी है तथा इस हाइवे के नंबर जारी करने को लेकर विभाग द्वारा मंत्रालय को आवेदन किया जा चुका है। फलोदी-खाटू नेशनल हाइवे निर्माण से फलोदी सीधे राजधानी जयपुर से जुड़ जाएगा।


डीपीआर कार्य जारी

इस नेशनल हाइवे की घोषणा के बाद अब डीपीआर तैयार की जा रही है। जिसमें अलग-अलग जगहों पर सडक़ निर्माण, बाईपास, ब्रिज, भूमि की आवश्यकता व प्रोजेक्ट की लागत आदि लेखा-जोखा तैयार होगा। डीपीआर के बाद विभाग द्वारा इस सडक़ पर भूमि अवाप्ति की कार्रवाई की जाएगी। मंत्रालय देगा एनएच को नंबर- इस नेशनल हाइवे को मंत्रालय द्वारा नेशनल हाइवे नंबर जारी करने के लिए आवेदन किया जा चुका है। अब जल्द ही मंत्रालय इस हाइवे नंबर दे देगा और फलोदी-खाटू नेशनल हाइवे अन्य हाइवे की सूची में शामिल हो जाएगा। रहा होगी आसान- फलोदी-खाटू नेशनल हाइवे बनने व निर्माण के बाद फलोदी सीधे जयपुर से जुड़ जाएगा। दरअसल अगर फलोदी से जयपुर वाया नागौर होकर जाने से करीब ५० से ७० किमी तक दूरी कम हो जाएगी, जबकि फलोदी से जयपुर वाया जोधपुर जाने से यह ज्यादा होती है। वहीं फलोदी से जयपुर जाने के लिए यहां के लोग व निजी बसें नागौर सडक़ मार्ग को ज्यादा पसंद करते हैं।

 

इनका कहना है

फलोदी-नागौर-खाटू नेशनल हाइवे का निर्माण दो टुकड़ों में होना है। यह हाइवे आगे से नेशनल हाइवे-४५८ से जुड़ जाएगा। वर्तमान में हाइवे की डीपीआर का कार्य जारी है तथा मंत्रालय द्वारा नंबर जारी किए जाएंगे।

सी बी खुड़ीवाल, प्रोजेक्टर डायरेक्टर, नेशनल हाइवे, नागौर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned