पिकनिक टाइम : जोधपुर के माचिया पार्क में देखें टाइगर जोड़े की अठखेलियां

घूमने-फिरने के शौकीन देसी विदेशी पर्यटकों के लिए टाइगर देखना बड़ा ही रोमांचकारी क्षण होता है। आप जोधपुर के माचिया पार्क में टाइगर देख सकते हैं।

By: M I Zahir

Published: 25 Apr 2018, 06:00 AM IST

जोधपुर . घूमने-फिरने के शौकीन देसी विदेशी पर्यटकों के लिए टाइगर देखना बड़ा ही रोमांचकारी क्षण होता है। आप जोधपुर के माचिया पार्क में टाइगर देख सकते हैं।

कायलाना के पास स्थित शहर के खूबसूरत पर्यटन स्थल माचिया जैविक उद्यान के दर्शक बुधवार से सवा साल के टाइगर 'एंथोनी Ó और एक वर्षीय शेरनी 'अंबिका की अठखेलियां देख कर रोमांचित हो सकेंगे। कानपुर जूलॉजिकल पार्क से 12 अप्रेल को माचिया जैविक उद्यान लाया गया रॉयल बंगाल टाइगर का जोड़ा शिफ्ट करने के बाद शैल्टर हाउस में रखा गया था।

दर्शक टाइगर करीब से देख सकेंगे

करीब 12 दिनों की टाइगर जोड़े की गतिविधियों की मॉनिटरिंग करने के बाद बुधवार से आम दर्शक भी टाइगर करीब से देख सकेंगे। माचिया जैविक उद्यान की एनिमल एक्सचेंज योजना के तहत कानपुर जूलॉजिकल पार्क से मिले स्टार वन्यजीवों की विशेष देखरेख की जा रही है।

जलकुण्ड भी तैयार किया

केयरटेकर राजेश बारासा ने बताया कि दोनों ही टाइगर को माचिया जैविक उद्यान का माहौल रास आ गया है। टाइगर को गर्मी से बचाने के लिए मोट्स परिसर में पानी का छिड़काव कर जलकुण्ड भी तैयार किया गया है, लेकिन दोनों ही फिलहाल पानी से दूर रहे हैं। मंगलवार को माचिया जैविक उद्यान के सभी मांसाहारी वन्यजीवों का उपवास का दिन होने के कारण नए टाइगर जोड़े ने भी उपवास रखा। टाइगर ने मोट्स परिसर में गर्मी से बचाव के लिए अधिकतर समय अस्थाई रूप से बनी गुफा के नीचे ही समय व्यतीत किया।


टाइगर के लिए कूलर और मचान भी

माचिया के दर्शक बुधवार से टाइगर की गतिविधियां देख सकते हैं। इसके लिए हमने पूरी तैयारी कर ली है। नए सदस्यों को गर्मी से बचाने के लिए मोट्स परिसर में पानी का छिड़काव कर शैल्टर हाउस में कूलर लगाए गए हैं। मोट्स परिसर में विशेष मचान भी बनाया गया है।
-किशनसिंह भाटी

उप वन संरक्षक वन्यजीव, जोधपुर

Show More
M I Zahir Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned