राष्ट्रीय लोक अदालत में सुलझे मामले, छाईं खुशियां

MI Zahir

Updated: 14 Jul 2019, 05:41:32 PM (IST)

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर. राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण और राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण ( National Legal Services Authority and State Legal Services Authority ) की साझा मेजबानी में राजस्थान हाईकोर्ट ( Rajasthan High Court ) में 215 और जिला न्यायालय ( district court ) में 2105 मामलों का निस्तारण किया गया। इस तरह दूसरी राष्ट्रीय लोक अदालत ( The second National Lok adalat of this year ) का सफल आयोजन किया गया।

प्रकरणों के निस्तारण पर विशेष ध्यान

राजस्थान उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति के सचिव देवकुमार खत्री ने बताया कि राजस्थान उच्च न्यायालय की गठित 6 बैंचों में न्यायाधिपति संदीप मेहता, अरुण भंसाली, डॉ. पुष्पेंद्रसिंह भाटी, दिनेश मेहता, मनोजकुमार गर्ग व विनीतकुमार माथुर की ओर से लोक अदालत की भावना से लम्बित प्रकरणों में पक्षकारों के मध्य समझाइश करवा कर विभिनन प्रकृति के 215 प्रकरणों का निस्तारण कर 4 करोड़ 30 लाख 90 हजार 752 रुपए की राशि के अवार्ड पारित किए गए। इनमें से 10 वर्ष से पुराने लंबित प्रकरणों के निस्तारण पर विशेष ध्यान दिया गया।

अवार्ड राशि भी पारित

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जोधपुर महानगर के अध्यक्ष और जिला व सेशन न्यायाधीश नरसिंहदास व्यास ने बताया कि जोधपुर महानगर जिला न्याय क्षेत्र में स्थित सभी न्यायालयों व स्थाई लोक अदालत की ओर से कुल 2 हजार 105 प्रकरणों का लोक अदालत के माध्यम से निस्तारण किया गया और 26 करोड़ 18 लाख 12 हजार 566 रुपए अवार्ड राशि भी पारित की गई।

पक्षकारों का आभार

इसके अलावा मुकदमा पूर्व सुलह व समझौता (प्री-लिटिगेशन) स्तर के कुल 3 हजार 283 प्रकरण निस्तारित किए गए। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव व अपर जिला न्यायाधीश सिद्धेश्वरपुरी ने राष्ट्रीय लोक अदालत सफल बनाने के लिए सभी अधिकारियों, अधिवक्ताओं, कर्मचारियों और पक्षकारों का आभार व्यक्त किया।

 

 

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned