पुलिस को संदेह, मिर्ची पाउडर फेंकने की बात झूठी

- मौके पर सब्जी के दाग मिले, लेकिन मिर्ची पाउडर नहीं था, एक प्रहरी ने बाद में फाड़ा बनियान

By: Vikas Choudhary

Published: 07 Apr 2021, 01:51 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
फलोदी स्थित उप कारागृह में 16 बंदियों के भागने के पीछे जेल प्रहरियों की मिलीभगत का अंदेशा गहराने लगा है। प्रहरियों ने सब्जी व मिर्ची पाउडर आंखों में डालकर बंदियों के भागने की जानकारी दी थी, लेकिन प्रारम्भिक जांच में मौके पर मिर्ची पाउडर नहीं मिला। सिर्फ सब्जी के दाग ही नजर आए। उधर, एक जेल प्रहरी के बाद बंदियों के भागने के बाद अपना बनियान फाडऩे की जानकारी भी सामने आई है। हालांकि उस जेल प्रहरी के खिलाफ फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) अनिल कयाल ने बताया कि जेल में ड्यूटी पर मौजूद प्रहरियों ने आंखों में मिर्ची पाउडर और लंगर में बनी सब्जी डालकर बंदियों के भागने की जानकारी दी गई थी। प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी जेल पहुंचे तो मौके पर सब्जी गिरने से बने दाग के निशान ही मिले। कहीं पर भी मिर्ची पाउडर नहीं था। पुलिस का मानना है कि यदि प्रहरियों की आंखों में मिर्ची पाउडर फेंका जाता तो वह जमीन पर गिरता और जांच में साक्ष्य भी मिलते, लेकिन वहां फर्श पर मिर्ची पाउडर नहीं मिलने से प्रहरियों की कहानी पर संदेह गहराने लगा है।
प्रहरी ने बनियान बाद में फाड़ा

उधर, जेल के एक प्रहरी का वीडियो वायरल हुआ है। बंदी के भागने के बाद पहले वीडियो में प्रहरी का हरा बनियान सही सलामत नजर आता है। जबकि बाद में उसी प्रहरी का बनियान फटा हुआ और उसमें गांठ लगी नजर आ रही है। बंदी की आंखों में भी पानी दिखाई देता है। जेल व पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है। हालांकि उस प्रहरी को निलम्बित नहीं किया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned