मारवाड़ में सियासी पारा गर्म : अपराधों पर कांग्रेस-भाजपा नेताओं ने एक-दूसरे की सरकारों को घेरा

जोधपुर में सियासी सरगर्मियां गुरुवार को चरम पर थी। पूर्व केन्द्रीय मंत्री जसवंतसिंह जसोल के निधन पर उनके निवास पर संवेदनाएं व्यक्त करने भाजपा और कांग्रेस के दिग्गज नेता पहुंचे।

By: Avinash Kewaliya

Published: 08 Oct 2020, 11:45 PM IST

जोधपुर. जोधपुर में सियासी सरगर्मियां गुरुवार को चरम पर थी। पूर्व केन्द्रीय मंत्री जसवंतसिंह जसोल के निधन पर उनके निवास पर संवेदनाएं व्यक्त करने भाजपा और कांग्रेस के दिग्गज नेता पहुंचे। शोक सभा के बाद सभी ने अपने अंदाज में हमला बोला। कांग्रेस की ओर से पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने यूपी की योगी सरकार को डरा हुआ बताया। वहीं भाजपा की ओर से केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री व प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने राजस्थान सरकार के कार्यकाल में अपराधियों को निरंकुश कहा।

पायलट यूपी के हाथरस कांड पर बोले, खुद के सलाहकार पर केस मामले में पूछने पर आगे निकले
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट राजस्थान के राजनीतिक घमासान की शांति के बाद पहली बार गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृहनगर आए। उनका काफिला और उनके साथ खड़े नेताओं पर सभी की नजरें टिकी रही। जसोल निवास पर शोकसभा में शामिल होने के बाद यूपी सरकार पर हमला बोला। राहुल-प्रियंका के नेतृत्व की बात कही। लेकिन उनके मीडिया सलाहकार पर केस मुद्दे को टाल गए। जनता के इस समर्थन को उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया। उधर, गहलोत खेमा भी इस दौरे पर नजरें जमाए बैठा था।
जोधपुर में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में पायलट ने उत्तरप्रदेश के हाथरस मामले में कहा कि अपराध होने के बाद प्रशासन, पुलिस व सरकार क्या रवैया अपनाती है, उसको जनता देखती है। जिस प्रकार परिजनों को नेताओं व मीडिया से दूर रखा गया, ये सभी ने देखा। ये रवैया यूपी सरकार को डरा हुआ बताता है। वहां जिला कलक्टर से परिजनों को धमकाया । वहीं पायलट अपने मीडिया सलाहकार पर हुए केस मामले में पूछने पर आगे बढ़ गए।

उनके साथ शोकसभा में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दीपेन्द्र सिंह शेखावत, विधायक हेमाराम चौधरी,राकेश पारीक,वेद प्रकाश सोलंकी,रामनिवास गावडिय़ा,पूर्व प्रतिपक्ष नेता रामेश्वर डूडी, पूर्व मंत्री राजेन्द्र चौधरी, पूर्व पीसीसी सचिव करण सिंह उचियारड़ा, सेवादल के हुक्म सिंह अजीत, राजेश सारस्वत सहित अन्य मौजूद थे।

Avinash Kewaliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned