पब्लिक लैंड प्रोटेक्शन सेल तीन महीने में उचित कदम उठाए

-रानेरी गांव में गैर मुमकिन ओरण भूमि पर अतिक्रमण का मामला

By: rajesh dixit

Published: 05 Feb 2021, 07:03 PM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर। राजस्थान हाईकोर्ट ने जोधपुर जिले के रानेरी गांव में गैर मुमकिन ओरण भूमि पर अतिक्रमण को लेकर दायर जनहित याचिका पर जिला स्तरीय पब्लिक लैंड प्रोटेक्शन सेल को तीन महीने में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
मुख्य न्यायाधीश इंद्रजीत महांति तथा न्यायाधीश दिनेश मेहता की खंडपीठ में याचिकाकर्ता मनफूलसिंह ने जनहित याचिका दायर कर गैर मुमकिन ओरण भूमि पर अतिक्रमण हटाने की मांग की थी। खंडपीठ ने कहा कि हाईकोर्ट के समक्ष चारागाह, ओरण, गोचर, जोहड़, तालाब, नदी, नदी का पेटा, सार्वजनिक रास्ते, श्मशान, कब्रिस्तान आदि पर अतिक्रमण को लेकर जनहित याचिकाएं दायर की जाती रही है। इसे देखते हुए जयपुर पीठ ने एक मामले में मुख्य सचिव को प्रत्येक जिले में पब्लिक लैंड प्रोटेक्शन सेल गठित करने के निर्देश दिए थे। जिला कलक्टर की अध्यक्षता में गठित इस सेल का मुख्य कार्य सार्वजनिक भूमि पर अतिक्रमण हटाने की शिकायत पर जांच के उपरांत उचित कदम उठाना है। खंडपीठ ने याचिकाकर्ता को यह शिकायत जिला कलक्टर के समक्ष उठाने को कहा है। पब्लिक लैंड प्रोटेक्शन सेल को निर्देशित किया गया है कि शिकायत सही पाए जाने पर तीन महीने में उचित कार्रवाई की जाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned