एक घंटे तक लिफ्ट में फंसे रहे रेलवे अधिकारी

- पीएफ ऑफिस के पास बहुमंजिला इमारत का मामला
- सोसायटी वाले तार से खींच लिफ्ट को फ्लोर तक लाए, लगिए से दरवाजा खोल निकाला बाहर

By: Vikas Choudhary

Published: 05 Sep 2019, 01:34 AM IST

जोधपुर.
चौपासनी हाउसिंग बोर्ड में पीएफ कार्यालय के पास बहुमंजिला इमारत की लिफ्ट बुधवार रात तकनीकी खामी के चलते बीच में अटक गई। रेलवे में ऑफिस अधीक्षक (ओएस) एक घंटे तक गर्मी व उमस के बीच लिफ्ट में फंसे रहे। सोसायटी के लोग तार से खींच लिफ्ट को फ्लोर तक लाए और लगिए से दरवाजा खोल उन्हें सुरक्षित बाहर निकाला।

हेड कांस्टेबल शकील खान के अनुसार रेलवे में ऑफिस अधीक्षक पीएफ ऑफिस के पास आकृति हाइट नामक इमारत पर नवें फ्लोर निवासी संजय (५६) पुत्र आनंदीलाल माथुर नौंवी मंजिल पर फ्लैट में जाने के लिए लिफ्ट में सवार हुए। पांचवें व छठें फ्लोर के बीच लाइट बंद हो गई। कुछ देर बाद लाइट चालू हो गई, लेकिन लिफ्ट चालू नहीं हुई। ओएस माथुर लिफ्ट में बीच में अटक गए। गर्मी व उमस के कारण उनका बुरा हो गया।
उन्होंने परिजन व सोसायटी वालों को फोन कर अवगत कराया। सोसायटी वालों ने उन्हें लिफ्ट से बाहर निकालने का प्रयास शुरू किया। फिर पुलिस कन्ट्रोल रूम में सूचना दी गई। लिफ्ट में आग की सूचना पर शास्त्रीनगर से एक दमकल भी मौके पर पहुंची।

इस बीच, सोसायटी के लोगों ने छत के रास्ते लोहे के तार को खींच लिफ्ट को छठी मंजिल के फ्लोर तक लेकर आए, जहां उन्होंने स्टील का दरवाजा खोलने का प्रयास किया। लोहे के लगिए से काफी मशक्कत के बाद दरवाजा खुल सका। संजय माथुर को सकुशल बाहर निकाल सभी ने राहत की सांस ली।
दो दरवाजों के बीच स्टुल रख बाहर निकाला

सोसायटीवासी लगिए से दरवाजा खोलने में तो कामयाब हो गए, लेकिन वृद्ध बाहर नहीं आ पा रहे थे। एेसे में दोनों दरवाजों के बीच स्टुल रखा गया। ताकि दरवाजा बंद नहीं हो।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned