संतों के साथ ग्रामवासियों ने लिया संरक्षण का संकल्प, पालासनी तालाब पर किया श्रमदान, देखें वीडियो

jay kumar bhati

Updated: 16 Jun 2019, 11:11:20 AM (IST)

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

 


जोधपुर. राजस्थान पत्रिका के महाभियान अमृतं जलम् के तहत् जिले के पालासनी ग्राम के प्राचीन तालाब पर रविवार सुबह श्रमदान किया गया। टीम अभिनव पालासनी व ग्रामवासियों के सहयोग से प्राचीन जलाशय परिसर की साफ सफाई की गई। संत चिडि़यानाथ आसन पालासनी के गादीपति संत कैलाशनाथ व शिव मंदिर देवलिया के संत सुखदेवानंद के सान्निध्य में संत समाज भी श्रमदान में शामिल हुआ।

SEE MORE: सीएम गहलोत ने नीति आयोग के समक्ष रखा पश्चिमी राजस्थान का जल संकट

 

योगी डॉ. गिरवरनाथ ने बताया कि 560 साल पूर्व जोधपुर नगर की स्थापना के समय जब चिडि़या टूंक पहाड़ी पर किले का निर्माण शुरू किया गया तब संत चिडि़यानाथ का धूणा हटाने से नाराज होकर संत चिडि़यानाथ जोधपुर से प्रस्थान कर पालासनी में तपस्या की थी। करीब 50 बीघा क्षेत्रफल में फैले विशाल प्राचीन तालाब का जल पालासनी सहित आसपास के ग्रामवासियों और विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीवों और पक्षियों के लिए विशेष महत्व रखता है।

SEE MORE: प्रधानमंत्री मोदी के समक्ष सीएम गहलोत ने रखी पश्चिमी राजस्थान की यह मांगें, पढि़ये

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned