अनुबंधित बसें बंद होने से बढ़ी रोडवेज की मुसीबतें

यात्रियों की डिमांड के बाद भी शुरू नहीं कर पा रहे बसें
- 32 अनुबंधित बसें लगी हुई है जोधपुर डिपो में

By: Om Prakash Tailor

Published: 08 Oct 2020, 06:05 PM IST

जोधपुर. जोधपुर डिपो 32 अनुबंधित बसें पिछले सात माह से अधिक समय से रूट से नदारद है। मु यालय के आदेश के इन्तजार के चलते डिपो यात्रियों की डिमांड के बाद भी रूट पर आवश्यकता अनुसार बसें संचालित नहीं कर पा रहा। जिससे डिपो को तो राजस्व नुकसान हो रहा है साथ ही यात्रियों को भी रूटों पर ज्यादा बसें आने-जाने के लिए नहीं मिल पा रही है। 63 शेड्यूल ही चला पा रहे बसेंजोधपुर डिपो में 120 बसें है। जिनमें से 32 बसें अनुबंधित लगी हुई है। वर्तमान में डिपो की ओर से रूटों पर महज 63 शेड्यूल बसें ही संचालित की जा पा रही है। अनुबंधित पर लगी बसें नई थी। जिन्हें जयपुर, अहमदाबाद आदि ल बे रूटों पर संचालित किया जाता था। लेकिन मु यालाय के आदेश के इन्तजार में लॉकडाउन के बाद से अनुबंधित बसें डिपो से संचालित नहीं की जा रही है। वर्तमान स्थिति यह है कि यात्रियों की डिमांड के अनुरूप डिपो बसें संचालित करने में समक्ष नहीं है।


कई रूटों पर संचालित नहीं हो रही रोडवेज
32 अनुबंधित बसें संचालित नहीं होने के चलते ल बे रूट पर यात्रियों को आने-जाने के लिए कम सुविधा मिल पा रही है। जयपुर, अजमेर, अहमदाबाद जैसे ल बे रूट पर जाने के लिए यात्रियों को बसों का इन्तजार करना पड़ता है।


425 किलोमीटर प्रतिदिन करना होता है संचालन
अनुबंध पर लगी बसों का प्रतिदिन कम से कम 425 किलोमीटर तक संचालन करना होता है। जिसमें परिचालक रोडवेज का होता है और डीजल रोडवेज की ओर से दिया जाता है। चालक सहित बस की मर ात की समस्त जि ोदारी बस मालिक की होती है।
इन्होंने कहा
अनुबंधित बसें मु यालय स्तर से ही लगाई गई थी। उनका फिर से संचालन कम होगा यह फैसला भी मु यालय स्तर पर ही होगा। समस्या को लेकर हमने तो मु यालय को अवगत करवा दिया।
- बीआर बेड़ा, मु य प्रबंधक, जोधपुर डिपो

Om Prakash Tailor
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned