Watch- रेत के धोरों पर बैठ पढ़ाई करने को मजबूर ग्रामीण बच्चे, इंटरनेट के अभाव से आ रही परेशानी

बच्चों को विद्यालय के सूर्योदय का इंतजार

By: Jay Kumar

Published: 09 Jun 2021, 02:45 PM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जयकुमार भाटी/जोधपुर. कोरोना काल के चलते प्रदेश में सोमवार से नया शिक्षण सत्र शुरू हो गया हैं। एक ओर ग्रीष्मावकाश समाप्त होने के बाद शिक्षक रोटेशन के आधार पर स्कूल पहुंचे, तो दूसरी ओर विद्यार्थियों ने ऑनलाइन माध्यम स्माइल, शिक्षावाणी व आओ घर से सीखें से जुडक़र अपनी पढ़ाई शुरू की। वहीं डिजिटल इंडिया के युग में गांवों में इंटरनेट सेवा का अभाव होने से हाईटेक हो रहे ग्रामीण बच्चों को ऑनलाइन शिक्षण में परेशानी भी झेलनी पड़ रही हैं। जिससे ग्रामीण स्कूली बच्चे लंबे समय से विद्यालय खुलने का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में बेलवा गांव में नेटवर्क की समस्या के चलते रेत के धोरे पर बैठी बालिकाएं पढ़ाई करती नजर आयी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned