WATCH : ओपन माइक्स व मेडिटेशन सेंशन्स में हिट हो रहा फैजल का संतूर वादन, बॉलीवुड सिंगर्स ने भी बढ़ाया हौसला

उम्मेद राजकीय स्टेडियम के पास निवासी फैजल ने बताया कि संतूर बजाने की शुरुआत अचानक ही हुई। वह पहले तबला वादन में हाथ आजमा रहा था और बड़ा भाई मो. जुबैर संतूर व सारंगी में पारंगत है।

By: Harshwardhan bhati

Published: 27 Nov 2019, 10:48 AM IST

जोधपुर. सनसिटी के यूथ में म्यूजिक का क्रेज दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। यही कारण है कि विभिन्न तरह के वाद्ययंत्रों को सीखने और सुनने के लिए कई आयोजन भी बढऩे लगे हैं। इनमें गिटार, तबला, कीबोर्ड के बीच संतूर वादन अपनी अलग पहचान पुख्ता कर रहा है। कश्मीरी और सूफी संगीत में लोकप्रिय संतूर का वादन सनसिटी की फिजां में मिठास घोल रहा है। इसमें युवा वादक मोहम्मद फैजल खासा हिट हो रहा है। उम्मेद राजकीय स्टेडियम के पास निवासी फैजल ने बताया कि संतूर बजाने की शुरुआत अचानक ही हुई। वह पहले तबला वादन में हाथ आजमा रहा था और बड़ा भाई मो. जुबैर संतूर व सारंगी में पारंगत है। बड़े भाई को देखते हुए उसने भी संतूर बजाना आरंभ किया। यह रास आने पर गजल गायक पिता जाकिर हुसैन ने प्रोत्साहित किया।

WATCH : पर्यटकों की फेवरिट डेस्टिनेशन है जोधपुर का तूरजी का झालरा, बेशकीमती विरासत का है बेजोड़ नमूना

फैजल ने बताया कि उसके दादा उस्ताद हमीद खान सॉन्ग एंड ड्रामा डिविजन में ए क्लास आर्टिस्ट रहे हैं। बड़े पिता आबिद खान व हनीफ खान भी प्रख्यात वोकलिस्ट हैं। ऐसे में परिवार में ही संगीत का माहौल देखने पर उसे यह शौक विरासत में मिला। अपनी कॉलेज की शिक्षा के साथ वह 4 घंटे संतूर पर रियाज कर रहा है। पंजाबी सिंगर अखिल के नए एलबम में फैजल ने भी साथ दिया है। भोपाल में हुए संतूर समारोह में पंडित शिवकुमार शर्मा सहित फेमस सिंगर अनूप जलोटा व रूपकुमार राठौड़ के सामने वादन किया है। वहीं गत दिनों जोधपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में गुजराती सिंगर उस्मान मीर के साथ संगत की थी।

WATCH : जोधपुर जिले के इस परिवार ने संस्कृत भाषा को बढ़ावा देने के लिए उठाया अनूठा कदम, निमंत्रण पत्र बना चर्चा का विषय

ओपन माइक्स में धूम
राहुल शर्मा को अपना आइडल मानने वाले फैजल ने बताया कि 10वीं में उसने पढ़ाई छोडकऱ पूरी तरह से संगीत को ही समर्पित होने की ठान ली थी लेकिन परिजनों ने पढ़ाई जारी रखने का जोर दिया। उसने कहा यह संगीत का ही जादू रहा कि शिक्षा में वह कभी पीछे नहीं रहा। ओपन माइक्स आदि आयोजन में फैजल के संतूर वादन की धूम है। उसे मेडिटेशन सेशन्स के लिए भी आमंत्रित किया जाता है।

Show More
Harshwardhan bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned