ऑनलाइन परीक्षा में सीट बदल कर बैठे दो परीक्षार्थी, बायोमैट्रिक पंजीयन में फोटो मिलान न होने पर आए पकड़ में

ऑनलाइन परीक्षा में सीट बदल कर बैठे दो परीक्षार्थी, बायोमैट्रिक पंजीयन में फोटो मिलान न होने पर आए पकड़ में

Nidhi Mishra | Publish: Aug, 08 2019 11:44:17 AM (IST) Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

कर्मचारी चयन आयोग नई दिल्ली की मल्टी टास्किंग स्टाफ भर्ती परीक्षा में सीट बदलकर बैठे दो परीक्षार्थियों को पकड़ लिया गया है। इन्हें बायोमैट्रिक पंजीयन में फोटो से चेहरे मिलान न होने पर पकड़ा गया।

जोधपुर/ जयपुर। रमजान का हत्था में लक्ष्मण नगर ए स्थित ऑनलाइन परीक्षा सेंटर में कर्मचारी चयन आयोग ( Staff Selection Commission ) नई दिल्ली की ओर से आयोजित मल्टी टास्किंग स्टाफ भर्ती परीक्षा ( multitasking staff recruitment exam ) में सीट बदल कर परीक्षा दे रहे दो अभ्यर्थियों को केन्द्राधीक्षक की शिकायत पर बनाड़ थाने में मामला दर्ज कर दोनों अभ्यर्थियों को हिरासत में लिया गया है।

 


पुलिस के अनुसार लक्ष्मण नगर ए के आइओएन टीसीएस (टाटा कंसल्टेंसी सेंटर) सेंटर में बुधवार दोपहर झुंझुनूं जिले में चिड़ावा थानान्तर्गत गिगडिय़ा निवासी प्रतीक सिंह पुत्र सौरव सिंह जाट व झुंझुनूं में कचहरी थानान्तर्गत बालोट निवासी अमित पुत्र उमराव सिंह जाट दूसरी पारी की परीक्षा देने पहुंचे थे। लैब संख्या-1 में प्रतीक को सिस्टम संख्या सीओ 42 व अमित को सिस्टम संख्या सी 170 सिस्टम आवंटित किया गया, लेकिन दोनों अभ्यर्थी अपनी-अपनी जगह नहीं बैठे।

 

 

परीक्षा शुरू होने से पहले ही प्रवेश पत्र व आइडी प्रूफ बदल दिए। दोनों ने सीट भी बदला-बदली कर ली। प्रतीक की जगह अमित और अमित की जगह प्रतीक बैठ गया। परीक्षा की उपस्थिति सीट पर दोनों ने फर्जी हस्ताक्षर किए।

 

 

Students Exchanged Seats In Multitasking Staff Recruitment Exam

कुछ देर बाद जब केन्द्राधीक्षक मोहम्मद रिजवान राउण्ड पर पहुंचे और जांच शुरू की तो प्रतीक का चेहरा बायोमैट्रिक पंजीयन में फोटो से मिलान नहीं हुआ। संदेह होने पर उससे पूछताछ की तो उसने सीट बदलना स्वीकार कर लिया।

 


परीक्षा समाप्ति के बाद दोनों को बनाड़ थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया। रात को केन्द्राधीक्षक की तरफ से धोखाधड़ी व राजस्थान सार्वजनिक परीक्षा अधिनियम की धाराओं में मामला दर्ज कर दोनों को हिरासत में लिया गया।

 


एक अभ्यर्थी की मदद के लिए बदली सीट
पुलिस को अभ्यर्थियों ने पहले मजाक में सीट बदलने की जानकारी दी। बाद में सामने आया कि अमित की मदद करने के लिए प्रतीक ने सीट बदली थी। पुलिस यह पता लगा रही है कि सीट बदलने के लिए रुपयों का लेनदेन हुआ या नहीं। हालांकि दोनों ने इससे इनकार किया है। दोनों अभ्यर्थी रिश्तेदार बताए जाते हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned