कापरड़ा तालाब में 40 से अधिक कछुओं की संदिग्ध मौत

कापरड़ा तालाब में 40 से अधिक कछुओं की संदिग्ध मौत
कापरड़ा तालाब में 40 से अधिक कछुओं की संदिग्ध मौत

Jitendra Singh Rajpurohit | Updated: 17 Sep 2019, 11:38:03 PM (IST) Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

- बिलाड़ा रेंज के कापरड़ा तालाब का मामला

जोधपुर. जिले के बिलाड़ा रेंज के कापरड़ा तालाब में मछलियों और 40 से अधिक कछुओं की संदिग्ध मौत हो चुकी है। तालाब के किनारे बड़ी संख्या में मृत कछुए पड़े होने पर बिश्नोई टाइगर्स वन्य एवं पर्यावरण संस्था के राजेश सारण की सूचना पर बिलाड़ा रेंज के वनकर्मी मौके पर पहुंचे। वनपाल जवानराम चौधरी ने मौका रिपोर्ट तैयार कर कछुओं का पोस्टमार्टम करवाने के लिए जोधपुर के रातानाडा स्थित राजकीय पशु चिकित्सालय पहुंचे। मंगलवार को कछुओं का पोस्टमार्टम नहीं होने के कारण सभी कछुओं को फिलहाल कायलाना स्थित रेस्क्यू सेंटर में रखा गया। क्षेत्रीय ग्रामीण डूंगरसिंह चम्पावत व महीराम सोऊ ने बताया कि जलीय जीवों के मरने के कारण समूचा तालाब सड़ांध मारने लगा है। ग्रामीणों का कहना है कि तालाब के ऊपर से बिजली के तार टूटकर गिरने से फैले कंरट के कारण जलीय जीव जन्तु मारे गए है। शीतकाल में हर साल तालाब पर प्रवासी परिन्दों का आवागमन भी होता है। इधर घटना की सूचना मिलने पर बिश्नोई टाईगर्स वन्य एवं पर्यावरण संस्था बिश्नोई टाईगर फ ोर्स प्रदेशाध्यक्ष रामपाल भवाद और जिला महासचिव भरत खेड़ी सहित कई कार्यकर्ता माचिया जैविक उद्यान के रेस्क्यू सेंटर पहुंचे और वन अधिकारियों से कछुओं की मौत की जांच करवाने की मांग की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned