बिना एमबीबीएस डिग्री के तीन मंजिला भवन में चला रहा था अस्पताल!

बिना एमबीबीएस डिग्री के तीन मंजिला भवन में चला रहा था अस्पताल!
बिना एमबीबीएस डिग्री के तीन मंजिला भवन में चला रहा था अस्पताल!

Jitendra Singh Rajpurohit | Updated: 20 Sep 2019, 02:32:35 AM (IST) Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

-जांच में मिले गर्भपात व डिलीवरी में काम आने वाले उपकरण

-स्वास्थ्य विभाग ने किया पुलिस के हवाले

जोधपुर. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग और सहायक औषधि नियंत्रण विभाग की टीम ने गुरुवार को पंचायत समिति लूणी के गुड़ा विश्नोइयां गांव स्थित एक निजी अस्पताल की अचानक जांच की। अस्पताल में गर्भपात में काम आने वाले औजार, कई जांच मशीनें और उपकरण, बायोवेस्ट भी मिला। तीन मंजिला बिल्डिंग में ऑपरेशन थिएटर से लेकर इमरजेंसी, ओपीडी, पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड, लेबर रूम सहित तक की सुविधा थी। लेकिन अस्पताल संचालक के पास मेडिकल डिग्री या अन्य दस्तावेज नहीं मिले।

कार्रवाई के दौरान कई मरीज इलाज के लिए हॉस्पिटल में आए हुए थे। मौके पर एक महिला मरीज को इंजेक्शन देने के लिए बिठाया गया था। टीम को केवल वहां आउटडोर मरीज ही दिखे। लेकिन कोई फ ार्मासिस्ट नजर नहीं आया। कार्रवाई के दौरान अस्पताल के कथित फर्जी डॉक्टर एवन प्रजापत को टीम ने पुलिस को सुपुर्द कर दिया। गुड़ा विश्नोइयां एमओ आइसी डॉ. ओमप्रकाश कड़वासरा, रिबेका जॉन, ड्रग इंस्पेक्टर पंकज गहलोत, राम प्रसाद कुमावत, अनिरुद्ध खत्री सहित कुड़ी थाना पुलिस भी साथ में मौजूद रही।

डिग्री पेश नहीं कर पाया
टीम ने जब प्रजापत से मेडिकल डिग्री या अन्य दस्तावेज मांगे तो वह पेश नहीं कर पाया। उसके पास बेची गई दवाइयों का हिसाब किताब भी नहीं मिला। हालांकि दवाइयों का बिल पेश कर दिया। जानकारी अनुसार प्रजापत अपने पास आयुष डिग्री बता रहा है, लेकिन टीम को मुहैया नहीं करवा पाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned