शबे-कद्र की रातों में इबादत का उजाला

 

घरों में मनाई 27 वीं शबे कद्र , ईदगाह मस्जिद में रोशनी

By: Nandkishor Sharma

Updated: 10 May 2021, 12:34 PM IST

जोधपुर. रहमतों व बरकतों के महीने रमजान की 27 वीं शबे.कद्र रविवार को अकीदत व एहतराम के साथ घरों में ही मनाई गई। रविवार रात अकीदतमंदों ने मस्जिदों के बजाय अपने अपने घरों में इबादत की । शबे कद्र की एक रात की इबादत का सवाब हजार रातों की इबादत के बराबर माना गया है। जालोरीगेट ईदगाह में 27 वीं शबे कद्र पर रोशनी की गई। शौकत अली लोहिया ने बताया कि इस साल कौम लोहारान, कौम अब्बासियान, कौम कुरैशियान, कौम सिंधियान, कौम तेलियान, कौम छीपा, कौम चढवा सहित आर्थिक रूप से समृद्ध अकीदतमंद अपने आस पास के जरूरतमन्दों को बिना किसी दिखावे के मदद कर रहे है। मुफ्ती-ए-आजम शेर मोहम्मद खान रज्वी ने नमाजे ईद में कोविड प्रोटोकॉल के अनुसार ही अफराद शरीक होने की गुजारिश की है। उन्होंने मस्जिदों के बाहर अथवा चौक में समुदाय के लोगों के एकत्र नहीं होने की भी अपील की है।

रखा रमजान का पहला रोजा.़.़
राजीव गांधी कालोनी पाल लिंक रोड निवासी 8 वर्षीय अरमान अंसारी ने अपना पहला रोजा रखा। जालोरी गेट ईदगाह क्षेत्र की 9 वर्षीय आलिमा खातुन ने भी रोजा रखकर दुनिया में फैली महामारी कोरोना से सभी की हिफ ाजत और देश में अम्नो.अमान के लिए दुआएँ की।

Nandkishor Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned