scriptRajasthan Crime: जेल से बंदी ने दी थी सुपारी, जमानत पर छूटे बदमाशों ने चाकू से किए थे गर्दन पर वार | The prisoner had given the contract from the jail, the criminals released on bail had attacked the neck with a knife | Patrika News
जोधपुर

Rajasthan Crime: जेल से बंदी ने दी थी सुपारी, जमानत पर छूटे बदमाशों ने चाकू से किए थे गर्दन पर वार

– सीसीटीवी फुटेज से तीन युवक गिरफ्तार, जेल में हत्या के आरोपी बंदी से दो मोबाइल जब्त

जोधपुरJun 28, 2024 / 08:24 am

Vikas Choudhary

attack from Jodhpur jail

बनाड़ थाना पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।

जोधपुर. बनाड़ थाना पुलिस ने रमजान का हत्था के पास टैक्सी चालक पर चाकू से जानलेवा हमला करने के मामले में तीन युवकों को गिरफ्तार किया। इनमें से दो आरोपियों को जोधपुर जेल से एक बंदी ने पुलिस के लिए मुखबिरी (सूचना देने) करने पर जानलेवा हमला करने की सुपारी दी थी। जेल में तलाशी लेने पर बंदी से दो मोबाइल जब्त किए गए।
अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (पूर्व) वीरेन्द्रसिंह ने बताया कि मूलत: चांदपोल हाल खोखरिया की सांसी बस्ती निवासी पिंटू पुत्र सूरजाराम सांसी टैक्सी चालक है। गत 22 जून की शाम वह टैक्सी में सवारी लेकर बनाड़ रोड पर रमजान का हत्था के पास पहुंचा, जहां सड़क किनारे खड़े एक युवक ने इशारा कर टैक्सी रुकवाई।
तभी उसने चालक पिंटू पर चाकू से वार करने शुरू कर दिए। चालक के गर्दन पर चाकू से चार वार किए गए। जिससे खून बहने लग गया। टैक्सी में बैठी सवारियां घबरा गईं और वहां से भाग निकली। खून से लथपथ चालक को वहीं छोड़ हमलावर बाइक पर बैठकर अपने साथी के साथ भाग गया। घायल को महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां पर्चा बयान के आधार पर पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ जानलेवा हमले का मामला दर्ज किया।
सीसीटीवी फुटेज के आधार पर तलाश के बाद पुलिस ने मगरापूंजला में पशु अस्पताल के पास नया बास निवासी लोकेश पुत्र कमलकिशोर माली, 5वीं रोड सर्कल पर निजी अस्पताल के पास निवासी सोनू पुत्र जगदीश सोनी व सदर कोतवाली थानान्तर्गत बागर चौक में राव भाट की हवेली क्षेत्र निवासी करण सिंह उर्फ नंदू उर्फ नंदिया पुत्र कानसिंह को गिरफ्तार किया।

जेल में हुई थी बंदी से दोस्ती, बाहर आए तो दी थी सुपारी

थानाधिकारी प्रेमदान रतनू का कहना है कि आरोपी लोकेश व सोनू जेल में बंद रह चुके हैं। इस दौरान मेड़ता रोड के पास सोगावास गांव निवासी बंदी सतपाल मेघवाल से दोनों की दोस्ती हो गई थी। सात माह पहले लोकेश व सोनू जमानत पर जेल से बाहर आए थे। गत 21 जून को जेल से सतपाल ने फोन कर टैक्सी चालक पिंटू पर हमला करने की सुपारी दी थी। 50-60 हजार रुपए देने तय किए गए थे। कुछ राशि अग्रिम दिलवाई गई थी। सुपारी मिलने के बाद लोकेश व सोनू ने करणसिंह को साथ लेकर पिंटू पर हमला करवाया था।

भाई के बाद बहन को भी पकड़ा तो करवाया हमला

घायल पिंटू का आरोप है कि पुलिस के लिए मुखबिरी करने के संदेह में उस पर हमला कराया गया था। सांसी बस्ती निवासी मुकाबली पत्नी रमेश सांसी के पिता ने हमले से कुछ दिन पहले जानलेवा हमले की धमकियां दी थी। पुलिस ने दो जगह दबिश देकर अवैध शराब जब्त की थी। महिला को गिरफ्तार किया गया था। मुकाबली का भाई भी मादक पदार्थ तस्करी के मामले में जेल में बंद है। उसी ने साथी बंदी सतपाल के मार्फत हमले की सुपारी दिलवाई थी। अब पुलिस महिला के भाई को गिरफ्तार करेगी।

जेल में जमीन में गाड़कर रखे मोबाइल जब्त

लोकेश व साेनू की सूचना पर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने जोधपुर सेंट्रल जेल की तलाशी ली। वार्ड-11 के बैरिक-1 में बंद सतपाल व उसके बिस्तर की तलाशी ली गई। पूछताछ करने पर उसने वार्ड के रंगमंच की दीवार के पास जमीन में मोबाइल छुपे होने की सूचना दी। जमीन खोदी गई तो प्लास्टिक थैली में दो-कीपेड मोबाइल मिले। जेल प्रहरी नारायणराम की ओर से मेड़ता के पास सोगावास गांव निवासी सतपाल पुत्र ओमप्रकाश मेघवाल के खिलाफ रातानाडा थाने में एफआइआर दर्ज की गई।

Hindi News/ Jodhpur / Rajasthan Crime: जेल से बंदी ने दी थी सुपारी, जमानत पर छूटे बदमाशों ने चाकू से किए थे गर्दन पर वार

ट्रेंडिंग वीडियो