प्यासे वन्यजीवों को तड़पते देख भामाशाह भरवा रहे यह तालाब

वर्षों से पानी से लबालब भरा रहने वाला कापरडा गांव का तालाब पहली बार सूख गया।

By: pawan pareek

Published: 07 Jul 2019, 09:01 AM IST

खारिया मीठापुर (जोधपुर). वर्षों से पानी से लबालब भरा रहने वाला कापरडा गांव का तालाब पहली बार सूख गया। पानी के अभाव में जलीय जीवों को मरते देख ग्रामीण व भामाशाह आगे आए और तालाब को पानी से भरवाने का निर्णय किया।


सरपंच खातुन सिंधी ने बताया कि तालाब में पानी नहीं होने से जलीय जीवों के साथ पशुओं की प्यास बुझाने का संकट आ गया। ऐसे में ग्रामीणों की सहमति से सहयोग राशि शामिल कर पास की प्राचीन बावड़ी की साफ - सफाई व मरम्मत करवाकर पानी की मोटर लगाकर बिजली कनेक्शन लिया गया। इससे बावड़ी का पानी रोजाना तालाब में डलवाया जा रहा है। साथ ही क्षेत्र के कई भामाशाह निजी टैंकर तालाब में पानी डलवा रहे हैं। भामाशाहों के इस प्रयास से अब तालाब में मवेशियों चहल-पहल दिखने लगी है।

 

वार्डपंच रज्जाक मौलवी ने बताया कि जनसहयोग से सार्वजनिक स्थानों व पशुओं के पानी पीने के लिए जगह- जगह बनी खेलियों में प्रतिदिन पानी डलवाया जा रहा है ताकि कोई जानवर प्यासा न रहे।

pawan pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned