फूलों पर ज्ञापन रखकर दी धोक, फिर पुलिस कमिश्नर से मिले ग्रामीण

- युवक की संदिग्ध हालात में मृत्यु के मामले में गिरफ्तारी की मांग

By: Vikas Choudhary

Published: 03 Jul 2021, 02:44 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
जोधपुर पुलिस कमिश्रर कार्यालय के बाहर शुक्रवार को एक अनूठा नजारा देखने को मिला। कमिश्रर से आए कुछ ग्रामीणों ने पहले कार्यालय के बाहर मुख्यद्वार के फुटपाथ पर गुलाब के फूल की पंखुडियां बिखेरी। इन पर ज्ञापन की कॉपी रखी। महिलाओं व पुरुषों ने नतमस्तक होकर ज्ञापन की प्रति को धोक दी। इसके बाद ये लोग ज्ञापन देने कमिश्रर के पास पहुंचे। यह नजारा देख वहां से गुजरने वाले लोगों के कदम भी ठिठक गए।

दरअसल, मामला मथानिया थानान्तर्गत तिंवरी के पास नहर में युवक की गत ३ मई को संदिग्ध हालात में मौत का है। मृतक राजेंद्रसिंह के भाई का आरोप है कि गांव के दो-तीन युवकों ने मृतक को धमकियां दी थी। इन लोगों ने ही या तो हत्या कर शव नहर में फेंका है या फिर उसे धक्का देकर नहर में गिराया है। तिंवरी निवासी प्रेमचंंद टाक ने ज्ञापन में बताया कि आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरण के इस मामले में दो महीने बाद भी पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया है। ग्रामीणों ने अन्य थाना पुलिस से जांच करवाने की मांग की है।

समाजसेवी राजेश बोराणा ने बताया कि मृतक के परिजन पढ़े लिखे नहीं हैं। आरटीआइ से हासिल पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतक के शरीर पर चोटों का उल्लेख है।
थानाधिकारी डॉ गौतम डोटासरा का कहना है कि युवती को लेकर गांव के कुछ युवकों से विवाद हुआ था। मृतक अपने मोबाइल के स्टेटस में अलविदा लिखकर गया था। बाइक नजर के किनारे मिली थी। मामले जांच की जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned