फर्जी अभ्यर्थी बनी दो युवतियां व एक अभ्यर्थी गिरफ्तार

- रीट परीक्षा में नकल का प्रयास, एक कॉलेज व दो स्कूलों में पुलिस कार्रवाई

By: Vikas Choudhary

Published: 27 Sep 2021, 01:04 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
पुलिस कमिश्नरेट जोधपुर में तीन परीक्षा केन्द्रों पर रीट परीक्षा में नकल के लिए फर्जी अभ्यर्थी बनीं दो युवतियों और एक अभ्यर्थी को रविवार को गिरफ्तार किया। गिरफ्त में आने वाले अभ्यर्थी ने 15 लाख रुपए में फर्जी अभ्यर्थी की फोटो लगा आवेदन पत्र भरा था, लेकिन फर्जी अभ्यर्थी के पीछे हटने पर अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचा तो पकड़ लिया गया।
प्रशिक्षु आइपीएस व सहायक पुलिस आयुक्त (केन्द्रीय) रंजीता शर्मा ने बताया कि गुलाब सागर स्थित राजमहल बालिका सीनियर सैकण्डरी स्कूल में एक अभ्यर्थी पर संदेह हुआ। उसके प्रवेश पत्र पर लगे फोटो का मिलान नहीं हो पाया। साथ ही हस्ताक्षर भी फर्जी निकले। केन्द्राधीक्षक की सूचना पर पुलिस परीक्षा केन्द्र पहुंची और जालोर में भीनमाल तहसील के वियों का गोलिया निवासी दिनेश (२४) पुत्र आसूराम पंवार को हिरासत में लिया। पूछताछ में सामने आया कि उसने अपने स्थान पर परीक्षा दिलाने के लिए एक अन्य युवक से आवेदन पत्र भरवाया था। उसी का फोटो लगाया गया था। दोनों में १५ लाख रुपए में सौदा तय हुआ था, लेकिन एेन वक्त पर फर्जी अभ्यर्थी ने परीक्षा देने से इनकार कर दिया था। इस पर दिनेश परीक्षा देने पहुंच गया, लेकिन प्रवेश पत्र पर फोटो से मिलान नहीं हो पाया। साथ ही हस्ताक्षर भी फर्जी निकल गए। एेसे में एफआइआर दर्ज कर दिनेश पंवार को गिरफ्तार किया गया।
आरएएस की तैयारी कर रही फर्जी अभ्यर्थी गिरफ्तार
एसीपी (पूर्व) दरजाराम बोस ने बताया कि बीजेएस में रेलवे क्रॉसिंग के पास विवेकानंद पब्लिक सीनियर सैकण्डरी स्कूल में मूलत: भोपालगढ़ में देवातड़ा हाल बालसमन्द क्षेत्र में पन्नालाल गौशाला के सामने निवासी किरण (२१) पुत्री धर्माराम जाट को बतौर फर्जी अभ्यर्थी गिरफ्तार किया गया। वह जैसलमेर जिले की पोकरण तहसील के खेतोलाई में बिश्नोइयों का बास निवासी खुशबू पुत्री उदाराम बिश्नोई की जगह परीक्षा देते पाई गई। खुशबू की तलाश की जा रही है। थानाधिकारी लेखराज सिहाग का कहना है कि किरण आरएएस की तैयारी कर रही है। फर्जी अभ्यर्थी बनने के संबंध में पूछताछ की जा रही है।
-----------------------------
सहेली को पास कराने के बनी फर्जी अभ्यर्थी गिरफ्तार
एसीपी (बोरानाडा) मांगीलाल ने बताया कि कुड़ी भगतासनी हाउसिंग बोर्ड स्थित जीडी मेमोरियल कॉलेज में बतौर फर्जी अभ्यर्थी जालोर जिले में बागोड़ा थानान्तर्गत भालनी गांव निवासी पारस पुत्री बाबूलाल को गिरफ्तार किया गया। वह बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी के पास नई ऊंदरी निवासी उमा कुमारी पुत्री गंगाराम बिश्नोई की जगह परीक्षा दे रही थी। प्रवेश पत्र पर फोटो का मिलान न होने पर संदेह हुआ। उमा की तलाश में पुलिस गांव भेजी गई है। पूछताछ में सामने आया कि पारस व उमा सांचौर की कॉलेज में साथ पढ़ती थी। एेसे में सहेली को पास कराने के लिए पारस फर्जी अभ्यर्थी बनीं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned