आरएएस प्री के आवेदन एक पखवाड़े बाद!

Gajendrasingh Dahiya

Publish: Mar, 14 2018 06:36:00 PM (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर . राजस्थान लोक सेवा आयोग (आरपीएससी) की ओर से इसी महीने राजस्थान प्रशासनिक सेवा यानी आरएएस-2018 भर्ती के लिए विज्ञापन जारी करने की संभावना है। यह भर्ती 1017पदों के लिए होगी। कार्मिक विभाग से अभ्यर्थना मिलने के बाद आरपीएससी ने पदों के वर्गीकरण का अपने स्तर पर निरीक्षण शुरू कर दिया है। आरएएस प्री परीक्षा जुलाई के पहले सप्ताह में होने की उम्मीद है। साल के अंत तक मुख्य परीक्षा और अगले साल की शुरुआत में भर्ती प्रक्रिया पूरी होने का अनुमान है। कार्मिक विभाग ने आयोग को आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती परीक्षा-2018 की अभ्यर्थना भेजी है। विभिन्न विभागों के लिए करीब 1017 पदों पर भर्तियां होगी। इसमें राज्य सेवा के 405 और अधीनस्थ सेवाओं के 612 पद शामिल किए गए हैं। विभाग से मिली अभ्यर्थना का आयोग के स्तर पर परीक्षण किया जा रहा है। इस बार एक फीसदी विशेष पिछड़ा वर्ग को आरक्षण दिया जाएगा। साथ ही परीक्षा के लिए अधिकतम आयु सीमा बढ़ाकर 40 वर्ष कर दी गई है, जिससे तैयारी में लगे सैंकड़ों अभ्यर्थियों को फायदा होगा। आरएएस-2013 और आरएएस-2016 के बाद नए पैटर्न पर आधारित यह तीसरी भर्ती परीक्षा है। नए पैटर्न में प्री और मुख्य परीक्षा में विषय नहीं रखे गए हैं। सभी अभ्यर्थियों के लिए एक समान प्रश्न पत्र होंगे। आरएएस-प्री में वस्तुनिष्ठ प्रकार का केवल एक प्रश्न पत्र होगा। मुख्य परीक्षा में सामान्य ज्ञान से जुड़े विवरणात्मक प्रकार के चार प्रश्न पत्र होंगे। इसके बाद साक्षात्कार रखा जाएगा। गौरतलब है कि पिछले साल आरएएस-2017 का आयोजन नहीं किया गया था। सरकार ने इस साल वर्ष 2018 और वर्ष 2018 दोनों के पदों को मिलाकर आरएएस-2018 भर्ती निकाली जा रही है।

----
अन्य भर्तियां भी कतार में

आरएएस के अलावा आरपीएससी द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती, स्कूली व्याख्यता भर्ती और इंजीनियर्स की भर्ती भी निकालने जा रही है। इनके विज्ञापन भी अगले महीने जारी हो जाएंगे।
----

इस महीने विज्ञापन संभव
आयोग को कार्मिक विभाग से अभ्यर्थना मिल गई है। अब इसका निरीक्षण किया जा रहा है। संभवत: इसी महीने आरएएस-२०१८ का विज्ञापन जारी हो जाएगा। जुलाई महीने में प्री परीक्षा की उम्मीद है।

शिवसिंह राठौड़, सदस्य, आरपीएससी अजमेर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned