दिनभर दौड़ते रहे वाहन, पुलिस ने चालान बनाए, अब और सख्ती की तैयारी में पुलिस

- 11 बजे दुकानें बंद, फिर भी सड़कों पर अनुशासन टूटा
- पुलिस कमिश्नर व डीसीपी ने पुलिस चौकी पावटा के ऊपर बैठ जनता के अनुशासन को टटोला

By: Vikas Choudhary

Published: 21 Apr 2021, 12:08 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.

बेलगाम हो रहे कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लगाए जन अनुशासन पखवाड़े में दूध-डेयरी, फल-सब्जी व किराणा की दुकानों के लिए समय निर्धारित करने के बावजूद मंगलवार को दिनभर सड़कों पर वाहनों की आवााजही रही। इनकी रोकथाम के लिए अब पुलिस और सख्ती की तैयारी में है। उधर, निर्धारित अवधि के बाद भी रातानाडा में खुली चार दुकानें सीज की गईं। बासनी थाना पुलिस ने शराब की तीन व एक ठेला संचालक के खिलाफ एफआइआर दर्ज की।
पुलिस ने जन अनुशासन पखवाड़े में जनता को अनुशासन में रखने के लिए दूध-डेयरी, फल-सब्जी व किराणा दुकानों को सुबह छह से ११ बजे तक ही खोलने की अनुमति दी है। ताकि खरीदारी के बहाने बाहर निकलने वालों पर ११ बजे बाद अंकुश लग सके, लेकिन एेसा नहीं हुआ। सुबह ग्यारह बजे बाद भी वाहन सड़कों पर दौड़ते नजर आए। पुलिस ने एेसे वाहनों को जब्त कर चालान भी बनाए।

पुलिस ने ट्रैफिक रोका तो लगा जाम
अनुशासन पखवाड़े की पालना को परखने के लिए पुलिस कमिश्नर जोस मोहन व पुलिस उपायुक्त (पूर्व) धर्मेन्द्रसिंह यादव पुलिस चौकी पावटा की छत पर शामियाना लगाकर बैठ गए। निगम आयुक्त रोहिताश्व तोमर भी साथ रहे। दो-तीन घंटे तक निरीक्षण के दौरान वाहनों की सतत आवाजाही रही। जिनमें अनुमत लोगों के अलावा अन्य व्यक्ति भी शामिल थे। वहीं, सेना के कई वाहन भी सड़कों पर दिखाई दिए। यातायात दबाव जानने के लिए पुलिस ने एकबारगी पावटा सर्किल पर ट्रैफिक रोक दिया। परिणामस्वरूप सर्किल के हर मार्ग पर वाहनों की कतारें लग गईं। जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई। आखिरकार यातायात खोला गया। यही स्थिति आखलिया चौराहे पर रही। दोपहर में पुलिस ने सख्ती शुरू की तो वाहनों की कतारें लग गईं।

दुकानें खुलने का समय और कम करने पर विचार
पावटा चौराहे पर अनुशासन पखवाड़े के परखने के बाद पुलिस कमिश्नर जोस मोहन कुछ और सख्ती करने की तैयारी में है। पुलिस कमिश्नर का कहना है कि आवश्यक सामग्री वाली दुकानों पर भीड़ नहीं उमड़ रही है। सुबह छह से ग्यारह बजे तक लोग आराम से खरीदारी कर रहे हैं। सड़कों पर आवाजाही रोकने के लिए दुकानों का समय घटाकर सुबह दस बजे किया जा सकता है।

आवश्यक सेवा वालों के वाहन पर स्टीकर लगाए
पुलिस ने अनुशासन पखवाड़े में अनुमत चिकित्सक, अन्य सरकारी कर्मचारी व अन्य आपातकालीन सेवा वाले वाहनों की सुविधा के लिए वाहनों पर स्टीकर चिपकाए। चिकित्सकों के लिए लाल व अन्य सरकारी कार्मिकों के लिए पीला व मीडिया के वाहनों पर नीले स्टीकर लगाए गए। पुलिस कमिश्नर जोस मोहन व डीसीपी धर्मेन्द्र यादव ने स्टीकर लगाकर शुरूआत की।

शराब की ३ व एक ठेले वाले पर एफआइआर, ४ दुकानें सीज
बासनी थानाधिकारी पाना चौधरी ने बिना सरकारी अनुमति के खुली शराब की तीन दुकानों व एक ठेलाधारक के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत चार एफआइआर दर्ज की। रामड़ावास कला निवासी प्रकाश बिश्नोई, साथिन निवासी ओमाराम देवासी, विनायका नगर निवासी कल्याणसिंह व बर्रा नगर निवासी पंकज प्रजापत को गिरफ्तार किया गया। उधर, रातानाडा थाना पुलिस व नगर निगम की संयुक्त टीम ने सुबह ११ बजे बाद भी खुली पार्वती डेयरी, जोधपुर स्वीट्स, १५ एडी व सरस डेयरी का ढाबा सीज किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned