video धींगा गवर मेले में बार बार गूंजी आवाज -उई मां.. घणी जोर सूं  पड़ी बेंत

M.I. Zahir

Publish: Apr, 03 2018 11:17:34 PM (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर . ओ रसियाजी थ्हानै कुण बिलमाया, बड़ीजी रे जावतां ल्हौड़ीजी

बिलमाया...। शहर परकोटे में मंगलवार रात गीत और संगीत की धूम से सजे
महिलाओं के विश्वप्रसिद्ध धींगा गवर मेले के दौरान तीजणियों की छडि़यों
और बेंतों से पिटने के बाद युवकों के मुंह से उई मां...आह...ऊ ह..उई ..
की आवाजें निकल रही थीं।

हंसी के फव्वारे छूट पड़ते

कहीं कोई युवक जानबूझ कर बेंत खाने के लिए उनके पास से जा रहा था तो कहीं कुछ तीजणियां टोह ले कर अनजान बन कर आते-जाते पुरुषों के झट से बेंत मार कर इधर-उधर हो जातीं। इस तरह माहौल में हंसी के फव्वारे छूट पड़ते। शहर परकोटे में हर जगह ये नजारे आम थे।
--
खुशियों,उमंग और उत्साह का माहौल
आम दिनों के दौरान घरों में घूंघट में रहने वाली गवर पूजने वाली तीजणियां
मंगलवार रात गवर माता के दर्शन के लिए स्वांग रचकर निकलीं। इस दौरान
उनमें खासा उत्साह नजर आया। कोई तीजणी ग्रामीण परिवेश में तो कोई सिर पर
साफे और बड़ी मूंछों के साथ, कोई फिल्मी अंदाज में तो कोई देवी-देवताओं
के स्वांग रच कर मेले में पहुंची।

लीक से हट कर कुछ अलग

सिटी पुलिस चाचा की गली क्षेत्र ने भी अपनी अहम भागीदारी निभाई। बेंतमार गणगौर कमेटी से जुड़ी इस इलाके की महिलाओं ने लीक से हट कर कुछ अलग और लुभावने स्वांग रचे। कोई श्रीकृष्ण तो कोई राधा तो कोई गवर-ईसर के रूप में गवर दर्शन करने के लिए निकली।

अभिनंदन किया गया

जेवरों से लकदक धींगा गवर प्रतिमा के दर्शन के लिए आई तीजणियों के समूह
को श्रेष्ठ गायन और आकर्षक स्वांग रचने वाली तीजणियों को स्मृति चिह्न,
प्रमाण पत्र व दुपट्टा भेंट कर उनका अभिनंदन किया गया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned