रामदेवरा मेला 2017: रेंगने लगा शहर, ट्रैफिक बदहाल, अब यातायात पुलिस ने की आमजन से ये अपील

जातरुओं की भीड़ व रेलवे स्टेडियम के सामने सड़क निर्माण से बढ़ रहा यातायात दबाव, शहर की यातायात व्यवस्था फिर चरमराई

 

By: Vikas Choudhary

Published: 18 Aug 2017, 06:23 PM IST

हाईकोर्ट के कड़े रूख के बावजूद शहर की यातायात व्यवस्था ताबे नहीं आ रही है। जातरुओं की भीड़ व रेलवे स्टेडियम के सामने सड़क निर्माणव पेचवर्क कार्य ने 'कोढ़ में खाज' का काम कर दिया है। रेलवे स्टेडियम के सामने वन-वे करने से यातायात का दबाव शहर की हार्ट लाइन पर आ गया है। जिसके चलते रेलवे स्टेशन रोड, पुरी तिराहा से नई सड़क तक सुबह से शाम तक जाम की स्थिति हो रही है। रेंग-रेंग कर वाहन निकलने को मजबूर हैं। पुलिस ने समाधान के प्रयास किए, लेकिन असफल रही। एेसे में अब यातायात पुलिस ने आमजन से अपील की है कि वे अधिक से अधिक वैकल्पिक मार्गों का उपयोग करें।

 

पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय व यातायात) भुवन भूषण यादव का कहना है कि पेचवर्क व सड़क निर्माण कार्य के अलावा जातरुओं की भीड़ आ रही है। एेसे में आमजन असुविधा से बचने के लिए अधिक से अधिक वैकल्पिक मार्गों का उपयोग कर यातायात पुलिस का सहयोग करें।

 

हार्ट लाइन क्रॉस करने को चाहिए आधा घंटा से अधिक
पावटा से हाईकोर्ट रोड, नई सड़क, एमजीएच, जालोरी गेट होकर यदि किसी आमजन को पाल रोड की तरफ आना-जाना है तो वर्तमान हालात में उसके लिए आसान नहीं है। शहर की हार्ट लाइन मानीं जाने वाली इस रोड पर यातायात का दबाव इतना बढ़ा हुआ है कि वाहन चालक को एक कोने से दूसरे कोने में पहुंचने के लिए कम से कम आधा घंटा से अधिक लग रहा है।

 

सुबह व शाम हालात बेकाबू


रेलवे स्टेडियम के सामने से पीडब्ल्यूडी चौराहे तक पेचवर्क होने और खतरनाक पुल से जेडीए सर्किल के बीच सड़क का निर्माण कार्य चलने से वन-वे यातायात व्यवस्था है। इस रोड का यातायात दबाव हार्ट लाइन पर पड़ रहा है। खासकर सुबह व शाम को हालात बदत्तर हो जाते हैं। पुलिस अधिकारियों ने गत सोमवार को नई सड़क से पुरी तिराहे के बीच खड़े रहकर खासी मशक्कत की थी, लेकिन सुधार नहीं हो पाया।

Show More
Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned