विश्व रंगमंच दिवस : रंगकर्मियों का हौसला कभी पस्त नहीं होगा

विश्व रंगमंच दिवस : रंगकर्मियों का हौसला कभी पस्त नहीं होगा
comedian kashfi

Harshwardhan Singh Bhati | Updated: 29 Mar 2017, 08:37:00 AM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

विश्व रंगमंच दिवस पर राजस्थान कला साहित्य संस्थान जोधपुर व राजस्थान संगीत नाटक अकादमी की साझा मेजबानी में टाउन हॉल में आयोजित प्रदेश स्तरीय नाट्य संगोष्ठी व रंग सेवा सम्मान समारोह में रंगकर्मियों और रंग कला चिंतक पत्रकारों का सम्मान किया गया।

रंगकर्मियों का हौसला कभी पस्त नहीं होगा। नाटक के मंचन में चाहे समय और पैसे की कितनी ही दिक्कतें क्यों न आएं, रंगकर्मी पूरी निष्ठा भाव और जज्बे के साथ रंगकर्म करते रहेंगे। विश्व रंगमंच दिवस पर मरुधरा के रंगकर्मियों ने संकल्प लिया कि वे हर मुश्किल का सामना करते हुए रंगकर्म की मशाल जलाए रखेंगे।

सामाजिक सरोकार निभाना है

राजस्थान कला साहित्य संस्थान जोधपुर व राजस्थान संगीत नाटक अकादमी की साझा मेजबानी में टाउन हॉल में आयोजित प्रदेश स्तरीय नाट्य संगोष्ठी व रंग सेवा सम्मान समारोह में यह स्वर मुखर हुआ। वरिष्ठ रंगकर्मी रमेश बोराणा ने कहा कि रंगमंच के सामने व्यापक चुनौतियां हैं, लेकिन हमें निडरता व प्रतिबद्धता के साथ अपना सामाजिक सरोकार निभाना है।

नुकसान पहुंचा रहा है

लेखक व इतिहासकार डा. मोहनलाल गुप्ता ने सभी संचार माध्यमों में रंगमंच को सम्पूर्ण और प्रभावी माध्यम बताते हुए कहा कि इस जीवंत कला की आत्मा व अस्तित्व समाज व अन्य मीडिया का भौंडापन नुकसान पहुंचा रहा है।

रंगमंच ही आम आदमी को उसकी स्थिति से जोड़ता है

व्यक्तित्व विकास गुरु अरविन्द भट ने कहा कि रंगमंच ही आम आदमी को उसकी स्थिति से जोड़ता है। अभिनेता नाटक संवाहक है, उसे परिष्कृत व सक्षम होना जरूरीहै, तभी वह नाटक की विषयवस्तु को प्रभावी तरीके से संचारित कर सकेगा। जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय राजस्थानी विभाग की सहायक आचार्य डा. मीनाक्षी बोराणा ने अपने शोधपत्र में राजस्थानी भाषा के गौरवमयी रंगमंचीय इतिहास व उसके प्रभावी नाट्य तत्वों का उल्लेख किया।

राजस्थानी रंगकर्म के संरक्षण की वकालत

वरिष्ठ लोक गायक कालूराम प्रजापति ने भी राजस्थानी रंगकर्म के संरक्षण की वकालत की। अकादमी के सचिव महेश पंवार ने आभार जताया। लिटिल मास्टर कॉमेडियन कशफी का मालाओं व पुष्प गुच्छ से स्वागत किया गया। इस मौके प्रारंभ में रंगकर्मी एम एस. जई ने रंग संदेश पढ़ कर सुनाया। अंत में संस्था सचिव बिनाका जेश ने आभार व्यक्त किया।

इन्हें मिला रंग सेवा सम्मान

राजस्थान कला साहित्य संस्थान की ओर से नाट्य क्षेत्र में अतुलनीय योगदान के लिए वरिष्ठ अभिनेत्री निर्देशिका अनुराधा अडवाणी, रंगकर्मी शब्बीर हुसैन व नाट्य प्रसार योगदान के लिए वरिष्ठ पत्रकार एम.आई. जाहिर व कलात्मक रंग फोटोग्राफी के लिए वरिष्ठ फोटो जर्नलिस्ट चन्द्रप्रकाश कुमावत का माला पहना और पुष्प गुच्छ, शॉल व प्रशस्ति पत्र प्रदान कर रंग सेवा सम्मान से अभिनन्दन किया गया। कार्यक्रम में बाल कलाकार कॉमेडियन लिटिल मास्टर कशफी ने रंगकर्मियों को मनोरंजन किया। कशफी ने तरह तरह की  आवाजें निकाल कर कलाकारों की वाहवाही पाई। कलाकारों ने उसे मालाओं से लाद दिया।


Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned