अमरीकी चिडिय़ाघर के अधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक

सीसीएफ और डीसीएफ की मौजूदगी में माचिया जैविक उद्यान का प्रजेन्टेशन

By: Nandkishor Sharma

Updated: 12 Feb 2021, 12:57 AM IST

जोधपुर. माचिया जैविक उद्यान के सर्वांगीण विकास के लिए यूएसए के द लिविंग डेजर्ट चिडिय़ाघर के साथ होने वाले करार को लेकर गुरुवार को जोधपुर के वन अधिकारियों के साथ वर्चुअल इंटरैक्टिव सत्र का आयोजन किया गया। सीजेडए की ओर से देश के 15 प्रमुख चिडिय़ाघरों को विश्वस्तरीय बनाने के दस वर्षीय विजन प्लान में जोधपुर के माचिया जैविक उद्यान को शामिल करने के बाद द लिविंग डेजर्ट चिडिय़ाघर एंड गार्डन, कैलिफोर्निया के साथ करार की तैयारियां की जा रही है। इसके लिए लगातार दूसरी बार माचिया जैविक उद्यान के संभावित सहयोग को लेकर वर्चुअल बैठक हुई जिसमें लिविंग डेजर्ट चिडिय़ाघर के अधिकारियों व सदस्यों ने जोधपुर के मुख्य वन संरक्षक हनुमानराम व उपवन संरक्षक महेश चौधरी के साथ वार्ता की। वार्ता का मुख्य विषय जोधपुर व मारवाड़ में घायल वन्यजीवों के रेस्क्यू ऑपरेशन पर केन्द्रित रहा जिसमें यूएसए चिडिय़ाघर के अधिकारियों ने उनके उपचार व रखरखाव संबंधी जानकारियां प्राप्त की। वन अधिकारियों ने माचिया जैविक उद्यान के वन्यजीवों की प्राकृतिक क्षमता बढ़ाने संबंधी प्रयासों को भी साझा किया।

जोधपुर में आकर्षक वन्यजीवों को लाने की उम्मीद बढ़ी
लिविंग डेजर्ट चिडिय़ाघर व डेजर्ट म्यूजियम दरअसल कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमरीका में स्थित एक रेगिस्तानी वनस्पति उद्यान है जो कैलिफोर्निया के स्प्रिंग्स के पास कोचेला घाटी के सोनोरान रेगिस्तान और सांता रोजा पर्वत की तलहटी में हैं। चिडिय़ाघर में करीब 430 विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीव मौजूद है जिनमें चीता, जिराफ, जेब्रा सहित रेगिस्तान में पाए जाने वाले विभिन्न प्रजातियों के सरिसृप आदि शामिल है। एमओयू के बाद माचिया जैविक उद्यान में जिराफ, जेब्रा, चीता जैसे आकर्षक वन्यजीवों का आदान प्रदान होने की भी उम्मीद है।

Show More
Nandkishor Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned