गायों के लिए जानलेवा बनी स्टोन कटिंग की गीली स्लरी

Vikas Choudhary

Updated: 23 Oct 2019, 12:51:26 AM (IST)

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.

स्टोन कटिंग मशीन से निकलने वाला कचरा यानि गीली स्लरी सुरपूरा में आबकारी थाने के पीछे गोचर भूमि में डालने से यह पशुओं के लिए जानलेवा साबित होने लगी है। दलदल में तब्दील स्लरी में फंसने से दो दिन में तीन बछड़ों की मृत्यु हो चुकी हैं।
क्षेत्रवासी शोभाराम देवड़ा ने बताया कि आबकारी थाने के पीछे गोचर भूमि है, जहां स्टोन पार्क में लगी स्टोन कटिंग मशीनों का कचरा यानि गीली स्लरी डाली जा रही है। लम्बे अर्से से स्लरी डालने से आस-पास के क्षेत्र में तीन से चार फीट तक जमकर दलदल में तब्दील हो चुकी है। आस-पास चारा चरने के लिए दिनभर मवेशियों की आवाजाही रहती है। रोजाना तीन-चार गायें दलदल में गिरकर फंस जाती है। बीती दो-तीन दिन में तीन बछड़े दलदल में फंस कर जान गंवा चुके हैं।

इस बीच, मंगलवार को भी एक गाय दलदल में फंस गईं। नजदीक स्थित मंदिर के पुजारी ने आस-पास के लोगों को बुलाया और फिर पुलिस को सूचना दी। क्षेत्रवासी महेन्द्रसिंह, संजय कुमार बोहरा, हनुमान देवासी, हनुमान देवडा़, महिपालसिंह, कैलाश भादू, भवानी सिंह राठौड़ की मदद से क्रेन चालक ने बेल्ट से बांधकर गाय बाहर निकाली।

क्षेत्रवासियों का कहना है कि स्टोन कटिंग मशीन से निकलने वाले दलदल में प्रतिदिन दो-तीन गायें फंस रही हैं। तीन गायों की मृत्यु हो चुकी है, लेकिन दलदल की वजह से शव तक नजर नहीं आ रहे हैं। इससे आस-पास बीमारी फैलने का भी खतरा मंडराने लगा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned