घर में चोर घुसे, वृद्धा जागी तो कैमिकल लगे रूमाल से मुंह दबाया, मौत

- रूड़कली गांव में लूट व हत्या से सनसनी, लाखों के स्वर्णाभूषण व दो लाख रुपए लूटे
- वृद्ध ने पकडऩे का प्रयास किया तो गला दबाने का प्रयास, धक्का देकर भागे, एक हिरासत में, तीन फरार

By: Vikas Choudhary

Updated: 08 Oct 2021, 12:49 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
डांगियावास थानान्तर्गत रूड़कली गांव के मकान में बुधवार रात दो-ढाई बजे चार युवकों ने लाखों के सोने के आभूषण व दो लाख रुपए लूट लिए। वृद्धा जागने लगी तो आरोपियों ने कैमिकल लगे रूमाल से मुंह दबाकर हत्या कर भाग गए। वृद्ध ने पकडऩे की कोशिश की तो उनका भी गला दबाने की कोशिश की। पुलिस ने एक को हिरासत में लिया है। तीन की तलाश की जा रही है।

सहायक पुलिस आयुक्त (मण्डोर) राजेन्द्र प्रसाद दिवाकर के अनुसार रूड़कली गांव निवासी सोनाराम सरगरा अपनी पत्नी शांति देवी (65) व दो पौत्रों के साथ बुधवार रात मकान में सोया था। रात करीब दो-ढाई बजे मकान में कुछ आवाज सुनाई देने लगी। कमरे में सोई शांतिदेवी की आंख खुल गई। वह उठने लगी तो वहां मौजूद चोरों ने रूमाल से उसका मुंह दबा दिया। इससे मुंह के साथ नाक भी दब गया और वह अद्र्धमूर्छित हो गईं। रूमाल में कैमिकल भी लगा था।
इस आपाधापी के बीच वृद्ध सोनाराम भी उठ गए। उन्होंने घर में घुसे चारों युवकों को पकडऩे की कोशिश की। तब उनका भी गला दबाने की कोशिश की गई। आखिर में चारों बदमाश वृद्ध को धक्का देकर भाग गए। वृद्ध के चिल्लाने पर दोनों पौत्र भी उठे और कुछ दूरी पर रहने वाले चचेरे भाईयों को सूचना दी। जो मौके पर आए और वृद्धा को मथुरादास माथुर अस्पताल ले गए, जहां तड़के मृत्यु हो गई। एसीपी दिवाकर व थानाधिकारी कन्हैयालाल वारदातस्थल और अस्पताल पहुंचे। मृतका के पुत्र दिनेश की तरफ से मामला दर्ज कर पोस्टमार्टम करा शव परिजन को सौंपा गया।

फिलहाल चिकित्सक ने मृत्यु का कारण नहीं बताया है। एफएसएल जांच के लिए विसरा प्रिजर्व किए गए हैं। मौके से मिला कैमिकल लगा रूमाल भी जांच के लिए एफएसएल भेजा गया है।
हड़बड़ाहट में मोबाइल छूटा, उसी से पहचान

मुंह दबाने से वृद्धा के अचेत होने और वृद्ध के पकडऩे का प्रयास करने से चारों बदमाश घबरा गए। उन्होंने किसी तरह वृद्ध को दूर धकेला और आनन-फानन में मौके से भाग निकले। इस हड़बड़ाहट में चारों में से एक व्यक्ति का मोबाइल वारदातस्थल पर ही छूट गया। जिसे पुलिस ने जब्त किया। उसी से पुलिस ने चारों की पहचान हुई। वे डांगियावास और आस-पास के बताए जाते हैं। पुलिस ने एक जने को हिरासत में लिया है। जो संभवत: नाबालिग है। अन्य तीन की तलाश की जा रही है।
लाखों के आभूषण व दो लाख रुपए लूटे

सोनाराम सरगरा के तीन पुत्र हैं। एक पुत्र वारदातस्थल से कुछ दूरी पर बाड़े में सो रहा था। दूसरा पुत्र अलग रहता है और तीसरा पुत्र शहर से बाहर है। वृद्धा की जान लेने से पहले चार जने 15-16 तोला सोने के आभूषण व दो लाख रुपए भी चुरा ले गए।
रूमाल में कैमिकल की गंध, मुंह-नाक दबने से हत्या

वारदातस्थल पर पुलिस को एक रूमाल मिला। उसमें से कैमिकल जैसी गंध आ रही थी। पुलिस को अंदेशा है कि गिरोह के पास बेहोश करने में प्रयुक्त होने वाला कैमिकल लगा कपड़ा या रूमाल साथ था। ताकि किसी घरवालों के जागने पर इस रूमाल से मुंह दबाकर बेहोश किया जा सके।
गिरफ्तारी न होने पर जताया रोष

वारदात का पता लगने पर परिजन ही नहीं अपितु ग्रामीण व समाज के लोग मोर्चरी आए, जहां दोपहर तक सिर्फ एक जने के पकड़े में आने पर रोष जताया गया। पुलिस ने आश्वस्त किया कि सभी की पहचान कर ली गई है और जल्द पकड़ में आएंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned