परिवार के लोग शादी की तैयारी कर रहे थे और उनका लाडला देश के लिए शहीद हो गया

दो माह बाद होने वाली थी शादी, परिवार वाले जुटे थे तैयारी में

 

By: Om Prakash Tailor

Published: 05 Feb 2021, 12:07 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

बिलाड़ा (जोधपुर). जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले की नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की ओर से की जा रही गोलाबारी के दौरान बुधवार को शहीद हुए बिलाड़ा तहसील के खेजड़ला निवासी लक्ष्मणराम पिचकिया की पार्थिव देह शुक्रवार सुबह पैतृक गांव पहुंचेगी। हजारों लोग शहीद का इस्तकबाल करेंगे, इसके लिए बिलाड़ा, पीपाड़ सहित पूरे जिले में लोगों ने प्रशासन के साथ ही स्वयं के स्तर पर तैयारियां की। गुरुवार शाम वायुसेना के विशेष विमान से शहीद की पार्थिव देह जोधपुर पहुंची, जहां सैन्य सम्मान के साथ रखा गया। शुक्रवार सुबह काफिले के साथ पैतृक गांव खेजड़ला में शहीद की पार्थिव देह पहुंचेगी, जहां उन्हें अंतिम सलामी दी जाएगी।
२३ साल की उम्र में ही देश के लिए कुर्बान होने वाले लक्ष्मण की दो माह बाद शादी होने वाली थी। इसके लिए तैयारियां जोर-शोर से चल रही थी, अब उनके शहीद होने की खबर से गांव में शोक की लहर छा गई। शहीद के पिता किशनाराम खेती करते हैं और छोटा भाई सेना भर्ती की तैयारी कर रहा है। परिजनों के अनुसार गत वर्ष मार्च में शादी प्रस्तावित थी, जो लॉकडाउन के चलते टल गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned