भूपेश बघेल बोले - उम्मीद से बड़ी जीत, बस्तर की हवा ने छत्तीसगढ़ में बदल दी तस्वीर

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि उम्मीद से बड़ी जीत मिली है।

By: Deepak Sahu

Updated: 03 Jan 2019, 01:15 PM IST

कांकेर. बुधवार को लोनिवि के रेस्ट हाउस में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि उम्मीद से बड़ी जीत मिली है। छत्तीसगढ़ की जनता ने इतिहास बना दिया। किसान विरोधी सरकार को 15 सीटों पर खड़ा कर दिया। बस्तर की हवा ने तो प्रदेशभर की तस्वीर बदल दी। दो तिहाई बहुमत से छत्तीसगढ़ की जनता ने जनादेश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने जो वादा किया वह हमने शपथ लेते ही पूरा कर दिया। किसानों का 6100 करोड़ कर्ज माफ कर दिया। मार्च से किसानों को 25 सौ रुपए समर्थन मूल्य मिलेगा।

उन्होंने कहा कि छोटे प्लाट की छत्तीसगढ़ में रजिस्ट्री नहीं होती थी। अब रजिस्ट्री भी होगी। 2005 से पहले तीन पीढिय़ों से प्रदेश में रहने वालों को पट्टा भी दिया जाएगा। 30 साल और 90 साल के पट्टा की रजिस्ट्री कराकर भूमि स्वामी का हक दिया जाएगा। यूपीए के समय का फारेस्ट राइट का प्रदेश में पालन किया जाएगा। हर किसान परिवार को गोबर गैस की सुविधा मिलेगी। उन्होंने भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि हम जुमलाबाज नहीं हैं, कांग्रेस ने जो वादा किया उसको पूरा किया। प्रदेश के होनहार युवाओं को रोजगार मिलेगा। आटसोर्सिंग बंद होगी।

कमीशन लेने वाली यह सरकार नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि खनन एवं वन संपदा से हमार प्रदेश भरा है। खनन तो प्रदेश में हो रहा लेकिन रायल्टी कहां जा रही पता नहीं चल रहा है। रायल्टी की राशि से अब उसी क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था में सुधार होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि नए साल पर माता दंतेश्वरी का दर्शन पूजन कर आप से मिलने के लिए निकला हूं। जगदलपुर में किसान, व्यापारी और महिला संगठन ने स्वागत किया। कोंडागांव में स्वागत किया गया। कांकेर पहुंचा तो आप सभी लोगों ने स्वागत किया।

मनोज मंडावी नहीं दिखे मंच पर
बस्तर प्रवास पर नए साल में आम जनता के अभिवादन में निकले सीएम भूपेश बघेल के स्वागत में विधायक मनोज मंडावी नहीं आए। बस्तर संभाग के एक मात्र मंत्री कवासी लखमा, विधायक संतराम नेताम, विधायक लक्ष्मी ध्रुव, विधायक शिशुपाल शोरी व विधायक अनुप नाग एवं अन्य पदाधिकारियों ने स्वागत किया। मुख्यमंत्री बघेल के मंच पर विधायक मनोज मंडावी नहीं आने से नाराजगी खुलकर सामने आ गई है।

धान व मेवा से सीएम को तौला
दोपहर से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रतिक्षा में पुरान बस स्टैंड पर किसान धान और तराजू को फूलमाला से सजाकर रखा था। सीएम करीब 4 बजे पहुंचे तो किसान प्रतिनिधियों ने पटाखा फोडक़र धान से तौल कर स्वागत किया। गिल्ली चौक पर मुश्किल संगठन ने मेवा से तौला कर स्वागत किया। इस दौरान धक्की-मुक्की के बीच सीएम को माला पहनाने के लिए कोशिश की पर वह नहीं पहने।

Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned