बिना सरिया से बने इस पुल से गुजरना है खतरनाक, ग्रामीण बोले- ठेकेदार करता है दादागिरी

पुल-पुलिया निर्माण में सरिया का उपयोग नहीं होना बताया जा रहा है।

By: चंदू निर्मलकर

Published: 09 Dec 2017, 04:47 PM IST

कांकेर. नरहरपुर ब्लॉक में इनदिनों पुल-पुलिया निर्माण में बड़ी गड़बड़ी सामने आ रही है। निर्माण कार्य में खुलेआम नियम कानून की धज्जियां उड़ रही हैं। पुल-पुलिया निर्माण में सरिया का उपयोग नहीं होना बताया जा रहा है।

गुणवत्ताहीन पुलिया को पार करने में ग्रामीणों को डर सता रहा कि कहीं हासदा न हो जाए। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि पुलिया निर्माण में सरिया का उपयोग नहीं होने पर विरोध किया तो ठेकेदार ने धमकी देकर सभी को चुप करा दिया। एक साल में ही लाखों की लागत से बनी पुलिस टूट चुकीं हैं।

ग्राम पंचायत सरोना में स्कूल भवन के पास एक और ग्राम खल्लारी में दो पुलिया का निर्माण बिना सरिया का होना बताया जा रहा है। लाखों की लागत से बनी तीनों पुलिया का निर्माण घटिया कराया गया है। पुलिया निर्माण में सरिया नहीं पडऩे पर निर्माण कार्य के दौरान ग्रामीणों ने विरोध किया तो प्राकलन का हवाला देकर ठेकेदार ने लोगों को धकमाकर चुप करा दिया था। करीब एक साल पहले बनी पुलिया टूट गई हंै। ग्रामीणों को अब पुलिया पार होने में डर सता रहा कि कहीं भरभरा कर ढह न जाए। ग्रामीणों ने बताया कि गांव में पुलिया का निर्माण पूरी तरह से घटिया कराया गया है। दो माह पहले पुलिया धंस जाना अपने आप को भ्रष्टाचार को प्रमाणित कर रही है। जबकि निर्माण कार्य के दौरान ग्रामीणों ने ठेकेदार की मनमानी पर विरोध किया था।

रसूखदार ठेेकेदार उल्टे ग्रामीणों को ही धमकाकर चुप करा दिया था। इस पुलिया की जांच विभागीय स्तर पर कराया गया तो बड़ी गड़बड़ी सामने आ सकती है। बाहरहाल स्थानीय निवासी अशोक जैन, राजकुमार, पंकज रामटेके, दिनेश रामटेके, दिनेश और नितेश ने बताया कि पुलिया निर्माण में अफसरों और ठेेकेदार की ओर से पूरी तरह से भर्राशाही मची है। एक साल में ही तीनों पुलिया जगह-जगह टूट चुकी है। अपनी करतूत को छुपाने के लिए ठेकेदार ने मुरुम डालकर टूटी पुलिया को ढंक दिया है। सरोना की पुलिया तो बीच से ही ढंस चुकी है।

सरोना में एक और खल्लारी में दो पुलिया निर्माण में सरिया का नहीं हुआ उपयोग, विभागीय अफसरों की लापरवाही से घटिया निर्माण, विरोध करने पर ठेकेदार ने ग्रामीणों को भगाया, तीनों पुलिया में बीच-बीच में पड़ी दरार, प्रशासन की ओर से जांच नहीं किया गया तो ग्रामीण करेंगे आंदोलन

यहां भी बिना सरिया की बना दी पुलिया
दुधावा के पास भी बिना सरिया डाले एक पुलिया को खड़ा कर दिया है। पुलिया निर्माण के बाद अपनी करतूत को छुपाने के लिए ठेकेदार ने अधिकांश हिस्सा को मिट्टी डालकर ढ़क दिया है। दुधावा के ग्रामीणों ने बताया कि रात में पुलिया का निर्माण ठेकेदार की ओर से कराया जा रहा था। इस पुलिया में भी दरार आने की बात ग्रामीणों ने कही है। इस पुलिया का निर्माण मात्र तीन माह पहले ही कराया गया है।

चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned