गैस योजना के तहत हितग्राहियों के खाते में डाली गई राशि

इसके तहत अधिकारियों के खाते में अप्रैल माह की राशि उनके खाते में जमा कराया जा रहा है।

By: Bhawna Chaudhary

Updated: 23 Apr 2020, 03:57 PM IST

कांकेर. कोविड-19 वायरस का संक्रमण देश में महामारी का रूप ले रहा है लगातार कोरोना संक्रिमतों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिसकी रोकथाम के लिए केंद्र सरकार द्वारा फैसला लिया गया और देश में 1 दिन का जनता खरबों के बाद 23 मार्च से 3 मई तक दो बार लॉकडाउन ऐलान किया और देश की जनता से अपील किया कि लॉकडाउन की सख्ती से पालन करें और बेवजह घर से ना निकले।

देश में लॉकडाउन के ऐलान के बाद निम्न वर्ग में जीवन यापन करने वालों की समस्या को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्जवला गैस योजना के अंतर्गत आने वाले हितग्राहियों को 3 महीने तक मुफ्त में रसोई गैस देने की घोषणा किया। इसके तहत अधिकारियों के खाते में अप्रैल माह की राशि उनके खाते में जमा कराया जा रहा है। जिससे कि उनके सामने गैस रिफलिंग करवाने की समस्या ना हो।

खाद्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में करीब 93 हजार हितग्राहियों को इस योजना का लाभ केंद्र सरकार देने जा रही है। इसके लिए उन्होंने प्रत्येक हितग्राही को 832 रुपए रिफलिंग के लिए दिया जा रहा है। इस तरह से जिले में इस योजना के तहत एक माह में करीब 7 करोड़ 74 लाख राशि इन कार्यों के खाते में जमा कराया जा रहा है।

देश इस समय एक ऐसे संकट काल से गुजर रहा है जिसमें सबसे ज्यादा प्रभावित इस वर्ग के लोग आ रहे हैं। ऐसे हालत में लॉक ना उनका पालन कर रहे लोगों के सामने रोजी-रोटी की समस्या खड़ी हो रही है। जो कि गैस रिफलिंग नहीं करा सकते उनकी परिस्थितियों को देखते हुए केंद्र सरकार ने 3 माह का उज्जवला गैस हितग्राहियों को मुफ्त में देने की योजना प्रारंभ कर दिया है।

Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned