कांकेर: कोरोना का कहर, एक निजी अस्पताल मिले तीन कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल सील

मंगलवार को पखांजूर में एक निजी अस्पताल में तीन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर अस्पताल को सील कर दिया गया।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 02 Sep 2020, 04:27 PM IST

कांकेर/पखांजूर. जिले में कोरोना वायरस से ग्रसित मरीजों संख्या में कमी नहीं आ रही है। एक दिन में 40 50 कोरोना मरीज मिलने से स्वास्थ्य विभाग की मुश्किलों को बढ़ाते ही जा रहा है। जिला कोविड-19 अस्पताल फुल होने के कारण अब लोगों को इलाज के लिए होम आइसोलेशन में रखा जा रहा है। कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए 6 ब्लॉकों में 50-50 सीटर अस्पताल खोलने की मंजूरी मिली है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार को पखांजूर में एक निजी अस्पताल में तीन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर अस्पताल को सील कर दिया गया। इस निजी अस्पताल में भर्ती मरीजों को दूसरे अस्पताल में इलाज के स्थानांतरित किया गया। नगर में कोरोना का मरीज पाए जाने से पखांजूर में हड़कंप मच गया है। उधर, नरहरपुर में एक, कांकेर ब्लॉक के पोटगांव में एक और दुर्गुकोंदल बीएसएफ कैंप में एक बीएसएफ का जवान कोरोना संक्रमित पाया गया है।

पखांजूर के निजी अस्पताल में कोरोना के तीन नए मरीज मिलने से प्रशासन की परेशानी बढ़ गई। कोरोना मरीज मिलने पर स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो गया। अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों और उनकी सेवा में लगे उनके परिजनों की जांच शुरू की गई। जिसमें से 2 और कोरोना मरीजों की पहचान हुई। इस तरह से कोरोना मरीज की संख्या एक से बढ़ कर तीन हो गई। स्वास्थ्य विभाग का अमला अस्पताल के स्टाफ की भी जांच कर रहा है। ऐसे में मरीजों की संख्या और बढ़ सकती है। अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि 31 अगस्त को एक मरीज भर्ती हुआ था।

जिसमें कोरोना के लक्षण दिखने के बाद इसकी सूचना पखांजूर सिविल अस्पताल को दी गई। उक्त मरीज की जब एंटीजन किट से जांच की गई तो कोरोना पॉजिटिव पाए जान पर सिविल अस्पताल ले आया गया। इसके बाद स्वास्थ्य अमला सक्रिय हुआ। प्रशासन के अधिकारी अस्पताल पहुंच गए। पहले तो स्वास्थ्य विभाग ने अस्पताल में उपस्थित सभी मरीजों को उनकी सेवा में लगे उनके परिजनों की जांच शुरू की। इस दौरान दो और मरीज अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव निकले। वह भी इलाज के लिए उसी वार्ड में भर्ती थे।

शाम तक स्वास्थ्य विभाग का अमला मरीजों उनके परिजनों के साथ अस्पताल के स्टाफ की जांच करने में जुटा हुआ था। ऐसे मरीजों की संख्या बढ़ने की संभावना है। प्रशासन ने कोरोना संक्रमण न फैले इसके लिए अस्पताल पूरी तरह से सील करने का फैसला लिया है। इसके बाद अस्पताल में भर्ती मरीजों को जांच के बाद उनकी सुविधा अनुसार सिविल अस्पताल पखांजूर या अन्य निजी अस्पताल में भर्ती करने की व्यवस्था की गई। अस्पताल के समस्त स्टाफ की जांच कर उनको पर में ही क्वारंटाइन करने की व्यवस्था की जा रही है।

Corona virus corona virus origin
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned