इस कारोबारी के थे नक्सलियों से कनेक्शन, चोरी छिपे करता था वॉकी-टॉकी सप्लाई, पूछताछ में उगले ये राज

नक्सलियों (Maoists Urban Network) को पिछले 2 वर्ष से वॉकी-टॉकी (वायरलेस) सप्लाई करने वाले रायपुर के कारोबारी हितेश अग्रवाल को कांकेर पुलिस ने राजनांदगांव से गिरफ्तार किया है।

By: Ashish Gupta

Published: 19 Jun 2020, 12:40 PM IST

कांकेर. नक्सलियों (Maoists Urban Network) को पिछले 2 वर्ष से वॉकी-टॉकी (वायरलेस) सप्लाई करने वाले रायपुर के कारोबारी हितेश अग्रवाल को कांकेर पुलिस ने राजनांदगांव से गिरफ्तार किया है। साथ ही रायपुर के बढ़ई पारा के ललिता चौक स्थित बालाजी सिक्योरिटी सर्विस के दफ्तर में दबिश दी गई। अग्रवाल राजनांदगांव से रोजाना रायपुर आता जाता था। इस दौरान तलाशी में दिल्ली से एक कंपनी से कम कीमत पर इसकी खरीदी करने के बाद अवैध रूप से इसे नक्सलियों को बेचने के दस्तावेज मिले हैं।

साथ ही लेनदेन का फर्जी बिल और रजिस्टर भी बरामद किया गया है। इस सभी को जब्त कर आरोपी कारोबारी से पूछताछ की जा रही है। बस्तर आईजी पी सुंदरराज ने बताया कि फिलहाल आरोपी से पूछताछ की जा रही है। बता दें कि कांकेर जिला के थाना सिकसोड़ पुलिस ने 24 मार्च 2020 को नक्सलियों को जूता, रुपए, वर्दी का कपड़ा, वायरलेस वॉकी टॉकी सेट, बिजली के तार की आपूर्ति करने वाले आरोपी तापस पालित को गिरफ्तार किया गया। इसकी विवेचना के दौरान 10 अन्य आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। उनसे मिली जानकारी के आधार पर राजनांदगांव से हितेश को गिरफ्तार किया गया है।

कनेक्शन की तलाश
कांकेर पुलिस और इंटेलिजेंस की तीन गिरफ्तार किए गए आरोपी हितेश से पूछताछ कर रैकेट से जुड़े अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है। साथ ही मिले इनपुट की आधार पर कुछ अन्य संदिग्धों पर भी नजर रखी जा रही है। बस्तर आईजी पी सुंदरराज ने बताया कि जांच के दौरान अभी और सनसनीखेज जानकारी सामने आएंगे। प्राथमिक पूछताछ में उसके द्वारा 25 वॉकी-टॉकी बिक्री करने की जानकारी मिली है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned