तीन साल से ऐसा क्या हुआ की गांव में मची है खलबली

तीन साल से ऐसा क्या हुआ की गांव में मची है खलबली

Deepak Sahu | Publish: Apr, 22 2019 09:31:54 PM (IST) | Updated: Apr, 22 2019 09:31:55 PM (IST) Kanker, Kanker, Chhattisgarh, India

* संबधित विभाग से फरियाद कर थक चुके ग्रामीण
* विधायक तक की बात नहीं सुन रहे अधिकारी

मैनपुर।आदिवासी विकासखण्ड मैनपुर के ग्राम पंचायत कोयबा में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा तीन वर्ष पहले लाखों रुपए की लागत से ओवरहेड टैंक का निर्माण किया गया है। बकायदा गांव के गलियों में पाइप लाइन बिछाकर पेयजल सप्लाई के लिए नल भी लगा दिया गया है, लेकिन पानी की सप्लाई अब तक चालू नहीं की गई है।पिछले तीन साल से ओवरहेड टैंक बंद पड़ा हुआ है।गांव में पेयजल की समस्या आज भी बनी हुई है। इस बंद पड़े ओवरहेड टैंक के चालू करने की मांग ग्रामीण लगातार करते आ रहे हैं, लेकिन संबंधित विभाग इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा।

दो माह पहले मैनपुर में समीक्षा बैठक के दौरान बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक डमरूधर पुजारी ने भी मामले की जानकारी ली थी। तब लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग ने विधायक को बताया गया था की गांव में एक ट्रांसफार्मर से पूरे गांव में बिजली सप्लाई की जाती है। ओवरहेड टैंक को प्रारंभ करने से लो वोल्टेड की समस्या उत्पन्न हो जाती है, जिसके चलते मोटर पंप नहीं चल पाता। इस गांव में ओवरहेड टैंक के लिए अलग से ट्रांसफार्मर लगाने के लिए बिजली विभाग को पत्र एक वर्ष पहले दे चुके हैं और बिजली विभाग द्वारा ट्रांसफार्मर नही लगाने से लाखों रुपए से निर्मित नलजल योजना का लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल रहा है।

विधायक की भी नहीं सुन रहा विभाग

विधायक डमरूधर पुजारी ने नाराजगी जताते हुए एक सप्ताह के भीतर नया ट्रांसफार्मर लगाकर नलजल योजना को प्रारंभ करने का निर्देश दिया था, लेकिन बिजली विभाग विधायक के आदेश का दो माह बाद भी पालन नही किया। इसके चलते इस भीषण गर्मी के दिनों में गांव में गंभीर पेयजल समस्या उत्पन्न हो गई है और शासन के महत्वपूर्ण नलजल योजना का लाभ ग्रामीणों को नही मिल रहा है। इसके चलते ग्रामीणों मे भारी आक्रोश दिखाई दे रहा है।

 

ग्रामीणों ने बताया कि शासन द्वारा तीन वर्ष पहले लंगभग 60 लाख रुपए की लागत से ओवरहेड टैंक का निर्माण किया गया है और इसे प्रारंभ भी किया गया था, लेकिन महज डेढ़ माह ही यह चल पाया। उसके बाद से बंद पड़ा हुआ है। इसे प्रारंभ कराने पिछले तीन साल से लोग संबंधिथ विभाग के चक्कर लगा रहे है लेकिन इस और कोई भी ध्यान नहीं दे रहा है और तो और ग्राम पंचायत को हैण्डओवर भी नहीं किया गया है, जगह -जगह लगाए नल भी क्षतिग्रस्त हो रहा है।

क्या कहते हैं जनप्रतिनिधि
पुस्तम कपील, जनपद अध्यक्ष मैनपुर का कहना है कई बार विभाग के अधिकारियों को नल जल योजना को प्रारंभ करावाने की मांग कर चुके है, लेकिन अब तक ध्यान नही दिया गया। विधायक डमरूधर पुजारी द्वारा समीक्षा बैठक में दो माह पूर्व नल जल योजना को प्रारंभ करावाने के निर्देश के बावजूद विभाग के अधिकारी विधायक के आदेशों का पालन नही कर रहे हैं।

 

बेलमती मांझी सरपंच ग्राम पंचायत कोयबा
सरकार लाखों रुपए खर्च कर नल जल योजना का निर्माण करवाया है। लेकिन यह शो पीस बनकर रह गया है। विभाग के अधिकारी इसे प्रारंभ करवाने ध्यान नही दे रहे हैं। अब कलक्टर गरियाबंद श्याम धावडे से शिकायत करेगें और नलजल योजना को प्रारभ करवाने की मांग करेंगे।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned